छत्तीसगढ़ का पीडीएस अपनाएं केंद्र: सुषमा

Monday, August 19, 2013

A A

सुषमा स्वराज-विदेश मंत्री

रायपुर | विशेष संवाददाता: भाजपा की प्रदेश व्यापी विकास यात्रा में छत्तीसगढ़ पहुँची सुषमा स्वराज ने कहा है कि केन्द्र सरकार अगर छत्तीसगढ़ के खाद्य सुरक्षा एवं पोषण सुरक्षा कानून को जस का तस अपना ले तो देश के करोड़ों गरीब परिवारों को भूख की चिन्ता से मुक्ति मिल सकती है.

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ ने कृषि उत्पादन बढ़ाकर, किसानों से धान खरीदी की सर्वश्रेष्ठ व्यवस्था, समुचित भण्डारण और सार्वजनिक वितरण प्रणाली का एक बेहतर नेटवर्क तैयार करके देश का पहला खाद्य सुरक्षा और पोषण सुरक्षा कानून बनाया है

श्रीमती सुषमा स्वराज ने यह भी कहा कि नक्सल हिंसा को खत्म करने के लिए भी छत्तीसगढ़ ने डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व में पूरी दृढ़ता के साथ मोर्चा संभाला है और प्रभावित इलाकों में शांतिपूर्ण विकास तथा कानून व्यवस्था दोनों ही मोर्चे पर राज्य सरकार संकल्प शक्ति के साथ काम कर रही है.

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ ने विगत लगभग साढ़े नौ साल में विकास के विभिन्न क्षेत्रों में शानदार कीर्तिमान बनाए हैं, जिनकी चर्चा आज सारे देश में हो रही है. अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर भी छत्तीसगढ़ को जन कल्याण की अपनी योजनाओं के लिए एक आदर्श राज्य के रूप में पहचाना जा रहा है.

सुषमा स्वराज ने यह भी कहा कि छत्तीसगढ़ पहला राज्य है, जिसे डॉ. रमन सिंह के कुशल नेतृत्व में गरीबों के लिए देश का पहला खाद्य सुरक्षा कानून बनाने का श्रेय मिला है. गरीबों की भलाई के लिए बने छत्तीसगढ़ के इस कानून की चर्चा आज देश-विदेश में हो रही है.

श्रीमती स्वराज ने कहा कि केन्द्र सरकार देश के करोड़ों गरीबो के भलाई के लिए अगर छत्तीसगढ़ का खाद्य सुरक्षा कानून अपना ले, तो केन्द्र का प्रस्तावित विधेयक निश्चित रूप से एक घंटे के भीतर संसद में सर्वसम्मति से पारित हो सकता है.

Tags: , , ,