गरीबी हटाना सरकार की पावन जिम्मेदारी

Tuesday, February 23, 2016

A A

प्रणव मुखर्जी

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: राष्ट्रपति ने संसद के संयुक्त सत्र में कहा गरीबी हटाना सरकार की पावन जिम्मेदारी है. राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने मंगलवार को बजट सत्र की शुरुआत करते हुए अपने अभिभाषण में कहा कि भारत से गरीबी और द्ररिदता को दूर करना भारत सरकार की ‘सम्मानजनक जिम्मेदारी’ है. प्रणब ने कहा, “गरीबी और अभाव को दूर करना हमारी सबसे पावन जिम्मेदारी है. मेरी सरकार ने तीन नई सामाजिक सुरक्षा और पेंशन योजनाओं की शुरुआत की है और गरीबों, किसानों तथा युवाओं को रोजगार दिलाने पर ध्यान दिया गया है.”

उन्होंने कहा, “मेरी सरकार वित्तीय समावेशन और सामाजिक सुरक्षा के माध्यम से इस लक्ष्य को संभव बनाने में लगी हुई है.”

प्रणब बजट सत्र से पहले एक संयुक्त बैठक में दोनों सदनों-लोकसभा और राज्यसभा के सांसदों को संबोधित कर रहे थे.

उन्होंने कहा, “सरकार के विकास का फलसफा ‘सबका साथ, सबका विकास’ है. मेरी सरकार मुख्य रूप से गरीबों की उन्नति, किसानों की समृद्धि और युवाओं को रोजगार दिलाने पर काम कर रही है.”

राष्ट्रपति ने कहा कि सरकार किसानों के हितों के लिए है, जो देश की समृद्धि का अहम हिस्सा हैं.

उन्होंने कहा, “देश की समृद्धि के लिए किसानों की भलाई जरूरी है.”

Tags: , ,