गोहत्या के लिए शासन दोषी: निश्चलानंद

Sunday, January 12, 2014

A A

स्वामी निश्चलानंद सरस्वती

बिलासपुर | एजेंसी: बिलासपुर में पुरी पीठाधीश्वर स्वामी निश्चलानंद सरस्वती ने कहा कि भारत में गौवंश विलुप्त होता जा रहा है. इसके लिए देश का शासन तंत्र दोषी है. करोड़ों रुपये लेकर गोहत्यारों को सरकारी कागजात पर अवैध रूप से लाइसेंस दिए गए हैं, ऐसे में गोहत्या नहीं रुक सकती.

स्वामी निश्चलानंद ने कहा कि देश की जनता को एकजुट होकर लड़ाई लड़नी होगी, तभी पृथ्वी के धारक तत्व ‘गौवंश’ को बचाया जा सकेगा. उन्होंने आगे कहा कि भारतीयों की सोच पश्चिमी पिटारे में बंद विनाश की ओर जा रही है, जबकि पश्चिम के लोग भारतीय संस्कृति व सभ्यता के महत्व को जान खुद को बेहतर बना रहे हैं.

अखिल भारतीय पीठ परिषद आदित्य वाहिनी और आनंद वाहिनी के तत्वावधान में यहां के लिंक रोड में शुक्रवार की रात आयोजित राष्ट्रोत्कर्ष आमसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि अमरीका, ब्रिटेन, चीन, रूस आदि विकसित देशों ने महायंत्रों का तो अधिकतम विकास कर लिया है, मगर वास्तविक रूप में देखा जाए तो वे अपने आप को शक्तिशाली नहीं, बेहद कमजोर मान रहे हैं, क्योंकि इन महायंत्रों को संभालने में ही उनकी नींद उड़ी है.

पुरी पीठाधीश्वर ने कहा कि भारत विकासशील होने के साथ नकलची है. यहां के लोगों को पश्चिमी देशों का यांत्रिक विकास ही दिखाई दे रहा है. यही कारण है कि भारतवासियों को साधु-संतों के प्रवचन भी सुनाई नहीं देते. दूसरी ओर विदेशी भारतीय संस्कृति व सभ्यता के महत्व को अच्छी तरह समझ कर इसे अपना रहे हैं. इस तरह पश्चिम का भविष्य उज्ज्वल और पूर्व का भविष्य अंधकारमय नजर आ रहा है.

स्वामी ने कहा कि भारतीयों को समय रहते अपनी आध्यात्मिक शक्ति को पहचानकर इस ओर अग्रसर होना होगा, तभी भारतीयता बनी रह सकती है.

Tags: , ,