गूगल-याहू के डाटा की चोरी: वाशिंगटन पोस्ट

Friday, November 1, 2013

A A

गूगल सर्च इंजन

वाशिंगटन | समाचार डेस्क: वाशिंगटन पोस्ट ने आरोप लगाया है कि अमरीका गूगल-याहू से जानकारियां चोरी करता है. वाशिंगटन पोस्ट में छपे समाचार के अनुसार अमरीका की राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी ‘मस्कुलर’ कार्यक्रम के तहत यह काम करती है. अखबार ने स्नोडेन के हवाले से बताया है कि यह जानकारियां गूगल तथा याहू के डाटा सेंटरो से चुरा ली जाती है.

हालांकि अमरीकी खुफिया एजेंसियां ऐसा कानूनी तौर पर भी अपने ‘ प्रिज्म’ कार्यक्रम के तहत करती है लेकिन स्नोडेन द्वारा लगाये गये ताजा आरोप के रूप जो काम किया जा रहा है वह अति आपत्तिजनक है. अमरीकी अखबार के खुलासे के पश्चात् राष्ट्रीय खुफिया एजेंसी ने इस बात से इंकार किया है कि वह गूगल तथा याहू के डाटा सेंटरों से जानकारिया चुराती है.

खबरों में बताया गया है कि 9 जनवरी 2013 से राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी ने याहू और गूगल के आंतरिक नेटवर्क से प्रतिदिन लाखों रिकॉर्ड गुपचुप तरीके से चुराकर मेरीलैंड के फोर्ट मेड में स्थित अपने मुख्यालय के डाटा भंडारगृह में भेजे.

स्नोडेन के मुताबिक अमरीका राष्ट्रीय सुरक्षा के नाम पर लोगो की निजी जानकारियां एकत्र करता है जिसमें ई मेल के अलावा भेजे गये वीडियो तथा टेक्स्ट भी शामिल हैं.

इस खबर के प्रकाशित होने के बाद फेसबुक, याहू, गूगल, एप्पल, माइक्रोसाफ्ट तथा ने मांग की है कि राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी पर बंदिशे लगायी जाये ताकि वह ऐसा न कर सके.

Tags: , , ,