निशानेबाजी: भारत का निशाना लक्ष्य पर

Sunday, July 27, 2014

A A

कामन वेल्थ खेल

ग्लासगो | खेल डेस्क: ग्लासगो के राष्ट्रमंडल खेलों में भारत ने शनिवार को निशानेबाजी में पांच पदक जीते. भारतीय निशानेबाजों ने अपना दबदबा कायम रखते हुए दो स्वर्ण पदक और तीन रजत पदकों पर कब्जा जमाया. बैरी बडन शूटिंग सेंटर में भारतीय निशानेबाजों की बंदूकें ही गूंजती रहीं.

निशानेबाजी में दिन की पहली सफलता प्रकाश नानजप्पा ने दिलाई, जबकि पहला स्वर्ण पदक अपूर्वी चंदेला ने दिलाई. राही सरनाबोत ने भी दिन के आखिरी निशानेबाजी स्पर्धा में सोने पर निशाना लगाकर दिन का स्वर्णिम समापन किया.

इस बीच अनोइका पॉल, प्रकाश नानजप्पा और अनीशा सैयद ने रजत पदक जीतने में सफलता पाई. निशानेबाजी में भारत अब तक कुल सात पदक जीत चुका है.

नानजप्पा ने शानदार प्रदर्शन करते हुए पुरुषों की 10 मीटर एअर पिस्टल स्पर्धा में रजत पदक हासिल किया. क्वालीफिकेशन में पहला स्थान हासिल करने वाले प्रकाश ने फाइनल में कुल 198.2 अंक हासिल किए. आस्ट्रेलिया के रेपाचोली ने 199.5 अंकों के साथ स्वर्ण जीता जबकि इंग्लैंड के माइकल गाउल्ट ने 176.5 अंकों के साथ कांस्य जीता.

इसके बाद अपूर्वी ने महिला वर्ग के 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में स्वर्ण पदक अनोइका ने रजत पदक हासिल किया. अपूर्वी ने 206.7 अंक और अनोइका ने 204.9 अंक हासिल कर अपने प्रतिद्वंद्वियों से कहीं बेहतर साबित हुईं.

दिन का आखिरी निशानेबाजी स्पर्धा महिला वर्ग में 25 मीटर पिस्टल स्पर्धा रहा, जिसमें फिर से भारतीय महिलाओं ने परचम लहराते हुए पहला और दूसरा स्थान हासिल किया.

राही ने बैरी बडन शूटिंग सेंटर में स्वर्ण के लिए अपनी हमवतन अनीशा से स्पर्धा करते हुए आठ अंक हासिल कर स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया, जबकि दो अंक हासिल कर दूसरे स्थान पर रहीं अनीशा को रजत पदक मिला. आस्ट्रेलिया की ललिता याउल्यूशक्या को कांस्य पदक मिला.

अभिनव बिंद्रा और मलायका गोयल ने शुक्रवार को क्रमश: स्वर्ण और रजत पर निशाना लगाया था.

Tags: , , , , , ,