विशेष राज्य का दर्जा मिले: नीतीश

Wednesday, August 19, 2015

A A

नितीश कुमार

पटना | समाचार डेस्क: नीतीश कुमार ने बिहार के लिये विशेष राज्य के दर्जे की मांग दोहराई है. उन्होंने संवाददाताओं को कहा कि पीएम मोदी के द्वारा घोषित सवा लाख करोड़ रुपयों के पैकेज में रुटीन कार्यो को जोड़कर पैकेज का रूप दिया गया है. उनका कहना है कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिलने से टैक्स में छूट मिलेगी तथा यहां उद्योग लगेंगे. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आरा की रैली में बिहार के लिए विशेष पैकेज की घोषणा करने की शैली पर तंज कसते हुए कहा कि उन्होंने पैकेज की घोषणा इस तरह की, जैसे बिहार की बोली लगा रहे हों.

उन्होंने यह भी कहा, “अहंकार में कौन है, यह अंदाज-ए-बयां ही बता रहा है.” पटना में एक संवाददाता सम्मेलन में नीतीश ने कहा, “प्रधानमंत्री कहते हैं कि मैं याचक बनकर दिल्ली गया था, तो मुझे बिहार के विकास और इसकी खिदमत के लिए याचक बनने में भी एतराज नहीं है.”

उन्होंने कहा, “प्रधानमंत्री एक ओर मुझे याचक कहते हैं और दूसरी ओर अहंकारी भी कहते हैं. यह तो विरोधाभाषी है. दोनों चीजों एक साथ कैसे हो सकती है.”

प्रधानमंत्री पर कटाक्ष करते हुए उन्होंने कहा, “मोदी कोआपरेटिव फेडरलिज्म यानी सहयोगात्मक संघवाद की बात करते हैं, लेकिन वह आचरण इसके उलटा करते हैं.”

मुख्यमंत्री ने एकबार फिर विशेष राज्य के दर्जे की मांग दोहराते हुए कहा कि अगर यह दर्जा हमें मिलता है, तो हमें केंद्रीय करों में छूट मिलेगी. निवेशक पूंजी लगाएंगे और राज्य में कारखाने खुलेंगे, जिससे लोगों को रोजगार मिलेगा.

नीतीश ने बिहार के लिए घोषित विशेष पैकेज के बारे में कहा कि इस पैकेज में रूटीन कार्यो को भी जोड़कर पैकेज का रूप दे दिया गया है.

उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री मोदी ने मंगलवार को अपने एक दिवसीय बिहार दौरे के दौरान आरा में बिहार के लिए सवा लाख करोड़ रुपये के विशेष पैकेज की घोषणा की.

Tags: , ,