फ्रांस में विमान हादसे में 150 मरे

Wednesday, March 25, 2015

A A

जर्मनविंग्स

पेरिस | समाचार डेस्क: जर्मनी की जर्मनविंग्स का एक विमान एयरबस ए320 मंगलवार को दक्षिणी फ्रांस में दुर्घटनाग्रस्त हो गया. विमान में 150 यात्री सवार थे. फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा होलांद ने विमान हादसे में किसी के भी बचने की संभावना से इनकार किया है. विमानन कंपनी जर्मनविंग्स ने मंगलवार को इस बात की पुष्टि की कि उसकी उड़ान संख्या 4यू9525 वाला विमान फ्रेंच आल्प्स के ऊपर दुर्घटनाग्रस्त हो गया. कंपनी ने कहा कि विमान में 150 यात्री सवार थे. इससे पूर्व मीडिया रपटों में विमान में 142 यात्री और चालक दल के छह सदस्यों के सवार होने का दावा किया गया था.

विमान ने स्पेन के बार्सिलोना से जर्मनी के डसेलडोर्फ के लिए उड़ान भरी थी. पूर्वाह्न् 11 बजे के करीब यह दक्षिणी फ्रांस के आल्प्स-दे-हौत प्रांत में दुर्घटनाग्रस्त हो गया.

अपनी मूल कंपनी लुफ्थांसा के साथ एक संयुक्त बयान जारी कर जर्मनविंग्स ने कहा कि विमान में 144 यात्री और चालक दल के छह सदस्य सवार थे.

ट्विटर पर जारी इस बयान में कंपनी ने कहा, “हमें बहुत खेद के साथ इस बात की पुष्टि करनी पड़ रही है कि बार्सिलोना से डसेलडोर्फ जा रहा उड़ान संख्या 4यू9525 वाला विमान फ्रेंच आल्प्स के ऊपर दुर्घटना ग्रस्त हो गया है.”

जर्मनविंग्स और लुफ्थांसा ने यात्रियों के परिजनों के लिए आपातकालीन सहायता नंबर जारी किए हैं.

दोनों कंपनियों ने कहा, “इस हादसे से जर्मनविंग्स और लुफ्थांसा के हर एक सदस्य को गहरा झटका लगा है. हमारी प्रार्थनाएं यात्रियों के परिजनों और मित्रों के साथ हैं.”

फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा होलांद ने कहा कि इस विमान हादसे में किसी के भी जीवित बचने की संभावना नहीं है.

एक बयान में होलांद ने कहा, “दुर्घटना की स्थिति से आशंका जताई जा रही है कि कोई भी जीवित नहीं बचा होगा. फ्रांस में हुए इस हादसे की स्थित हालांकि अभी तक साफ नहीं हो पाई है.”

होलांद ने कहा कि फ्रांस जर्मनी, स्पेन और हादसे में पीड़ित यात्रियों के परिजनों के साथ है.

जर्मनी की सरकार के प्रवक्ता स्टीफन सैबर्ट ने मंगलवार को एक बयान जारी कर कहा कि चांसलर एंजेली मर्केल को विमान दुर्घटना गहरा झटका लगा है. साथ ही उन्होंने फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा होलांद और स्पेन के प्रधानमंत्री मारियानो राजोय के साथ फोन पर बात की है.

सैबर्ट ने कहा कि चांसलर ने दिन के सभी कार्यक्रमों को रद्द कर दिया है और उन्हें इस हादसे के ताजा घटनाक्रम के बारे में जानकारी दी जाती रहेगी.

बयान के मुताबिक, फ्रांस में जर्मनी के राजदूत घटनास्थल के लिए रवाना हो गए हैं.

देश के विदेश मंत्रालय ने इस हादसे से निपटने के लिए एक संकट टीम तैयार कर ली है और आपातकालीन नंबर भी जारी कर दिए हैं. यातायात मंत्रालय ने बताया कि फेडरल ब्यूरो ऑफ एयरक्राफ्ट एक्सीडेंट इन्वेस्टिगेशन (बीएफयू) ने जांचकर्ताओं को फ्रांस भेजा है.

विदेश मंत्री फ्रैंक वाल्टर स्टीन्मीयर ने हादसे का शिकार हुए लोगों के परिजनों के प्रति संवेदना जाहिर करते हुए कहा, “हमारी संवेदनाएं उन लोगों के प्रति है जिनको आशंका है कि हादसे में मारे गए लोगों में उनके प्रियजन भी शामिल हैं.”

इस विमान में यात्रा करने वाले लोगों की पहचान का अभी तक खुलासा नहीं किया गया है, तथा हादसे के कारणों का भी अभी तक कोई पता नहीं चल पाया है.

मीडिया में आई खबरों के मुताबिक, एयरबस ए-320 जर्मनविंग्स कंपनी का सबसे पुराना विमान था और यह 24 वर्षो से कंपनी में सेवारत था. यह विमान मंगलवार तड़के डसेरडोर्फ से बार्सिलोना गया था. बार्सिलोना से लौटते समय यह दुर्घटनाग्रस्त हो गया.

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, स्पेन के प्रधानमंत्री मारियानो राजोय ने कहा कि विमान हादसा विशाल मानव हानि के साथ आकस्मिक और दुखद खबर है.

राजोय ने यह बयान स्पेन के बास्क क्षेत्र के विक्टोरिया में एक प्रेस वार्ता के दौरान दिया. विमान में सवार 45 यात्री स्पेन के थे.

राजोय ने कहा कि मैड्रिड वापस आने के लिए उन्होंने दिन के सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं.

राजोय ने कहा कि वह इससे अधिक कुछ जानकारी नहीं दे सकते, क्योंकि अभी जितनी भी जानकारी वह प्रारंभिक है.

स्पेन नरेश फेलिप-6 ने फ्रांस का अपना आधिकारिक दौरा बीच में ही रद्द कर दिया है. उन्होंने कहा कि वह मंगलवार को दक्षिणी फ्रांस में हुए विमान हादसे के कारण अपना दौरा रद्द कर रहे हैं.

Tags: , ,