ट्रेनों में फॉग सेफ डिवाइस

Friday, December 20, 2013

A A

कोहरे में ट्रेन

लखनऊ | एजेंसी:कोहरे में ट्रेनों के सुरक्षित संचालन व ट्रेन चालकों को परेशानी से बचाने के लिए रेलवे मुख्यालय ने उत्तर रेलवे लखनऊ मंडल को 165 ‘फॉग सेफ डिवाइस’ दिए हैं.

उत्तर रेलवे ने एक परिपत्र में बताया है कि डिवाइस से इंजन के अंदर स्क्रीन पर ड्राइवरों को सिग्नल की लोकेशन दिखाई देगी. सिग्नल से पांच सौ मीटर पहले डिवाइस की बीप बजेगी और ड्राइवरों को अलर्ट करेगी.

वैसे भी सर्दी का मौसम रेलवे के लिए सबसे कठिन होता है और उत्तर रेलवे लखनऊ मंडल के 159 रेलवे स्टेशनों पर कोहरा पड़ना शुरू हो गया है. रेलवे बोर्ड ने कोहरे में ट्रेनों के सुरक्षित संचालन के लिए अधिकारियों को विशेष निर्देश दिए हैं.

बोर्ड ने जारी अपने परिपत्र में कहा है कि गुजरे वर्षो में कोहरे के दौरान हुई दुर्घटनाओं को संज्ञान में रखते हुए वे हर उपाय किए जाएं, जिससे संरक्षा प्रभावित न हो सके. यही नहीं, शार्टकट विधि से ट्रेन आपरेशन बिल्कुल न किया जाए.

इस बारे में उत्तर रेलवे लखनऊ मंडल के वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक अश्विनी श्रीवास्तव ने बताया कि कोहरे से निपटने के लिए तैयारियां पूरी कर मंडल के स्टेशनों पर फागमैनों की तैनाती कर दी गई है. इसके अलावा सभी रेलवे स्टेशनों पर पर्याप्त मात्रा में पटाखों की भी आपूर्ति कर दी गई है. उन्होंने बताया कि कोहरे में ड्राइवरों के सिग्नल न दिखाई देने की मंडल को 159 फॉग सेफ डिवाइस दिए गए हैं.

वहीं, वरिष्ठ मंडल यांत्रिक अभियंता संदीप मुखर्जी ड्राइवरों को फॉग सेफ डिवाइस का आवंटन करेंगे. फॉग सेफ डिवाइस से ट्रेन ड्राइवर को सिग्नल से दो किमी पहले इंजन में लगे स्क्रीन पर उसकी लोकेशन मिल जाएगी. सिग्नल के पांच सौ मीटर पहले यह डिवाइस की बीप बजेगी और ड्राइवर को सिग्नल के बारे में अलर्ट करेगी.

Tags: , ,