फोकस आर्थिक सुधारों पर: जेटली

Friday, June 6, 2014

A A

अरुण जेटली-वित्त मंत्री

नई दिल्ली | एजेंसी: वित्त मंत्री अरुण जेटली ने अगले माह पेश होने वाले बजट के लिए गुरुवार को विचार विमर्श की शुरुआत की. गौरतलब है कि नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली सरकार के लिए यह पहला बजट होगा.

वित्त मंत्री सबसे पहले कृषि क्षेत्र के प्रतिनिधियों से मिले, जिसमें विख्यात कृषि वैज्ञानिक एम एस स्वामीनाथन भी मौजूद थे.

फेसबुक के एक पोस्ट में वित्त मंत्री ने लिखा, हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता है, अर्थव्यवस्था इस तरह संचालित हो, ताकि विकास की गति को बढ़ावा मिले और रोजगार के अवसर बढ़ें.

घरेलू लो कॉस्ट उत्पादन को बढ़ावा और सुधारों को गति देने की आवश्यकता है. मूल्य स्थिरता और वृद्धि हालांकि एक दूसरे से जुड़े हुए हैं, लेकिन इसके लिए एक अलग-अलग योजनाएं बनाए जाने की जरूरत है. इसके तहत, यह मौद्रिक और राजकोषीय नीति के संयोजन के रूप में राजकोषीय खरापन को दर्शाता है.

आने वाले दिनों में वे फिक्की, सीआईआई और एसोचैम के प्रतिनिधियों के अलावा, प्राइवेट बैंकों तथा राज्यों द्वारा संचालित बैंकों के प्रमुखों से भी मुलाकात करेंगे. उद्योग समूहों से वे अलग से एक मीटिंग में मुलाकात करेंगे.

बैठक से पहले जेटली ने एक दशक के दौरान अर्थव्यवस्था में आई उदासी का जिक्र करते हुए इसे जॉबलेस ग्रोथ की संज्ञा दी और कहा कि आने वाले समय में उनका ध्यान आर्थिक सुधार, महंगाई कम करना व औद्योगिक सेक्टर में नई जान फूंकना होगा.

Tags: , , ,