‘Baby’ आतंकवाद विरोधी, पाकिस्तान नहीं

Saturday, January 24, 2015

A A

अक्षय कुमार

मुंबई | मनोरंजन डेस्क: फिल्म ‘बेबी’ के निर्देशक नीरज पांडे के स्पष्टीकरण कि फिल्म आतंकवाद विरोधी है पाकिस्तान नहीं, फिल्म ‘बेबी’ को पाक फिल्म सेंसर बोर्ड ने बैन कर दिया है. ‘बेबी’ के निर्देशक नीरज पांडे ने कहा, ‘बेबी’ पाकिस्तान विरोधी फिल्म नहीं है. दरअसल, इसमें तीन पाकिस्तानी कलाकारों ने काम किया है. पाकिस्तान में रहने वाले कुछ तत्व गलत हो सकते हैं परन्तु पूरा पाकिस्तान गलत नहीं हो सकता. आतंकवाद का कोई धर्म नहीं होता है, हमारा विश्वास है कि आतंकवाद तथा धर्म दो अलग चीज है.” फिल्म ‘बेबी’ में पाकिस्तान के टीवी कलाकार रिकाल जुल्फिकार और रशीद नाज़ ने किरदार किया है. बुधवार को जब पाकिस्तानी अखबार ‘द डॉन’ ने फिल्म ‘बेबी’ के पाकिस्तानी वितरकों से संपर्क किया तो उन्होंने कहा, ” फिल्म ‘बेबी’ के बारे में पाकिस्तान का सेंसर बोर्ड निर्णय लेगा.” इसके ठीक एक दिन बाद ही पाकिस्तान के इस्लामाबाद तथा कराची सेंसर बोर्ड ने फिल्म को पाकिस्तान में बैन कर दिया. फिल्म की सभी सीडी और डीवीडी को भी इस्लामाबाद में बैन कर दिया गया है. फिल्म के डिस्‍ट्रीब्‍यूटर ‘एवरेडी पिक्चर्स’ के एक प्रतिनिधि ने अखबार को बताया कि फिल्म को पाकिस्तान में बैन कर दिया गया है.

पाकिस्तान के अखबार ‘द डॉन’ ने फिल्म ‘बेबी’ को बैन किये जाने पर लिखा है, ” इस्लामाबाद और कराची के सेंसर बोर्डों ने फिल्म पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है क्योंकि उनका मानना है यह फिल्‍म मुस्लिमों की नकारात्मक छवि पेश करती है और फिल्म के नकारात्मक किरदारों के नाम भी मुस्लिम ही हैं.” उल्लेखनीय है कि इससे पहले भी पाकिस्तान के फिल्म सेंसर बोर्ड ने भारतीय फिल्म ‘हैदर’ तथा ‘एक था टाइगर’ को बैन कर दिया था. पाकिस्तान ने सैफ अली खान की फिल्म ‘एजेंट विनोद’ को भी बैन कर दिया था. दरअसल, ऐसी किसी भी फिल्म में जिसमें आतंकवाद का विरोध किया जाता है उसे पाकिस्तान विरोधी मानकर वहां बैन कर दिया जाता है.

फिल्म ‘बेबी’ 23 जनवरी को पाकिस्तान में रिलीज होनी थी पर उसके पहले ही वहां के सिनेमा घरों के वेबसाइट से इस फिल्म को हटा दिया गया था. जाहिर है कि इस बात का पहले से ही गुमान था कि फिल्म ‘बेबी’ को वहां बैन किया जा सकता है.

फिल्म ‘बेबी’ में अक्षय कुमार को आतंकवादियों से लड़ता हुआ दिखाया गया है, पाकिस्तान का विरोध करता हुआ नहीं. पाकिस्तान पर टिप्पणी की जा सकती है कि ” चोर के दाढ़ी में तिनका” तभी तो आतंकवाद का विरोध करने वाले तथा आतंकवादियों पर बनाये गये हर फिल्म को वहां पर बैन कर दिया जाता है. गौरतलब है कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी अब माना जाने लगा है कि पाकिस्तान आतंकवादियों की शरण स्थली है.

वहीं, इस फिल्म में अभिनय करने वाले अनुपम खेर ने कहा, “बेबी’ एकदम वाजिब समय पर रिलीज हो रही है, क्योंकि यह गणतंत्र दिवस का मौका है और अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलकर आतंकवाद सहित अन्य मुद्दों पर बात करने भारत आ रहे हैं. ‘बेबी’ भी लोगों को आतंकवाद के मुद्दे पर जागरूक करती है. फिल्म यह संदेश देती है कि हम कैसे मिलकर इस बड़ी समस्या से निबट सकते हैं.”

Tags: , , , ,