आम आदमी पर फासीवाद का हमला

Wednesday, January 8, 2014

A A

आम आदमी पार्टी

गाजियाबाद | समाचार डेस्क: आप के कौशांबी स्थित मुख्यालय में बुधवार को कथित हिन्दूवादी ताकतो ने प्रशांत भूषण के कश्मीर पर दिये बयान के विरोध में तोड़-फोड़ मचाया. इस तोड़-फोड़ की जानकारी मिलने पर अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमलावर उन पर या भूषण पर हमला करने के लिए मुक्त हैं, अगर उन्हें लगता है कि वे कश्मीर की समस्या का हल निकाल सकते हैं.

उन्होंने कहा, “लेकिन हिंसा किसी राष्ट्रीय समस्या का हल नहीं करती है.” गौरतलब है कि आम आदमी पार्टी के नेता प्रशांत भूषण ने अपने एक बयान में कहा था कि कश्मीर घाटी में सेना को तैनात रखा जाये या नहीं इस पर जनमत संग्रह करवाया जाना चाहिये. उनके उस बयान से आम आदमी पार्टी ने किनारा कर लिया था तथा कहा था कि वह प्रशांत भूषण की व्यक्तिगत सोच है आप पार्टी की नहीं.

गौरतलब है कि आदमी पार्टी का मुख्यालय अरविंद केजरीवाल के निवास स्थान के पास है. घटना के समय मौजूद आम आदमी पार्टी के नेता दिलीप पांडे ने बताया कि हमलें में 25-40 हमलावर आम आदमी पार्टी के दफ्तर में घुस आये और उन्होंने शीशे, फूलदान
तोड़े तथा में भविष्य में और हमले की चेतावनी दे कर गयें हैं. उन्होंने आप नेताओं को अपशब्द भी कहे और अंदर पड़े फर्नीचर भी तोड़ डाले.

पांडे ने बताया कि मौके से हिंदू रक्षा दल का बैनर मिला है. दिलीप पांडे ने कहा, “हमले के वक्त हमारे सभी स्वयंसेवियों को कार्यालय के अंदर आने की सलाह दी गई.” उन्होंने बताया कि हमलावर किसी खास समुदाय के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे. कुछ प्रत्यक्षदर्शियों ने हमलावरों के कार का पंजीयन नंबर पुलिस को दिया है.

लोकतंत्र में हर किसी को अपनी बात रखने का अधिकार है तथा जो लोग लोकतंत्र में विश्वास रखते हैं उन्हें अपना विरोध भी लोकतांत्रिक तरीकों से ही व्यक्त करना चाहिये. किसी राजनीतिक पार्टी के मुख्यालय मं तोड़-फोड़ करना फासीवादी तौर तरीका है.

जिसे आज के जमाने में जायज़ नहीं ठहराया जा सकता है. प्रशांत भूषण के कश्मीर पर दिये बयान से कई लोग सहमत नहीं होगें परन्तु इसका मतलब यह नहीं है कि उस व्यक्ति के राजनीतिक पार्टी के दफ्तर में तोड़-फोड़ मचायी जाये. आम आदमी पार्टी के दफ्तर पर यह हमला आम आदमी पर फासीवाद का हमला है.

Tags: , , ,