अमरीका का संकट टला

Thursday, October 17, 2013

A A

बराक ओबामा

वाशिंगटन | एजेंसी: अमरीकी कांग्रेस ने गतिरोध को खत्म करने तथा ऋण की सीमा को बढ़ाने का फैसला आखिरकार कर लिया है. इससे पहले अमरीकी वित्त मंत्रालय ने चेतावनी जारी कर दी थी कि यदि ऋण सीमा नहीं बढ़ाई गई, तो 17 अक्टूबर को बकाए बिल का भुगातन करने के लिए समुचित नकदी नहीं रहेगी.

इसे राष्ट्रपति बराक ओबामा की बड़ी जीत मानी जा रही है. ज्ञात्वय रहें कि ओबामाकेयर को लेकर अमरीका में पिछले 16 दिंनों से गतिरोध जारी था.

मामूली रूप से संशोधित किए गए प्रस्ताव के पक्ष में सीनेट में 81 और विरोध में 18 मत पड़े. सीनेट में 45 रिपब्लिकन सांसदों में से सिर्फ 18 ने प्रस्ताव का विरोध किया.

दूसरी ओर प्रतिनिधि सभा में प्रस्ताव के पक्ष में 285 और विरोध में 144 मत डाले गए. 198 डेमोक्रेट सांसदों के साथ 87 रिपब्लिकन सांसदों ने भी प्रतिनिधि सभा में पक्ष में मतदान किया.

बुधवार रात सीनेट में हुए मतदान के तुरंत बाद ओबामा ने कहा था, “जैसे ही प्रतिनिधि सभा में समझौता पारित हो जाता है, मैं फौरन इस पर हस्ताक्षर कर दूंगा. हम सरकारी कामकाज को दोबारा फौरन शुरू करेंगे.”

राष्ट्रपति ने कहा, “हमारे लिए आगे ढेर सारे काम शेष हैं, जिसमें अमरीकी जनता का विश्वास दोबारा हासिल करना शामिल है, जो पिछले कुछ सप्ताह से हमने खो दिया है और हम वास्तविक मसलों पर ध्यान देकर, यह काम शुरू कर सकते हैं.”

इस विधेयक के राष्ट्रपति के पास पहुंचने के साथ ही व्हाइट हाउस ने संघीय कर्मचारियों से गुरुवार सुबह से काम पर वापस लौटने के लिए तैयार रहने की घोषणा कर दी. कांग्रेस में हुए मतदान के पश्चात् अमरीका का एक बड़ा संकट टल गया है.

Tags: , ,