हिंदी, क्षेत्रीय भाषाओं को मिले प्रोत्साहन

Sunday, September 14, 2014

A A

प्रणब मुखर्जी-राष्ट्रपति

नई दिल्ली | एजेंसी: राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने रविवार को कहा कि हिंदी और क्षेत्रीय भाषाओं को प्रोत्साहित किया जाना चाहिए. मुखर्जी ने हिंदी दिवस के मौके पर राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक समारोह को संबोधित करते हुए कहा, “संविधान कहता है कि हिंदी को इस तरह विकसित किया जाना चाहिए कि यह भारत की मिश्रित संस्कृति को प्रतिबिंबित करे.”

उन्होंने कहा, “लोकतंत्र के प्रगतिशील होने के लिए हिंदी भाषा और क्षेत्रीय भाषाओं का उपयोग बढ़ाया जाना चाहिए.”

मुखर्जी ने कहा, “इंटरनेट और मोबाइल सेवाओं में हिदी का प्रयोग कई गुना बढ़ गया है और यह जनता को कुशल प्रशासन प्रदान करने में मददगार होगा.”

राष्ट्रपति ने कहा कि भाषा सरकार की नीतियों को सक्षम बनाने और योजनाओं को लोगों तक पहुंचाने में मददगार है.

मुखर्जी ने हिंदी के क्षेत्र में योगदान देने वाले मंत्रालयों, विभागों और राष्ट्रीयकृत बैंकों को राजभाषा पुरस्कारों से सम्मानित किया. यह पुरस्कार गृह मंत्रालय के राजभाषा विभाग ने शुरू किया है.

Tags: , , , , , , ,