आचार संहिता उल्लंघन की 1200 शिकायतें

Saturday, November 2, 2013

A A

निर्वाचन आयोग

रायपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ में निर्वाचन आयोग को आचार संहिता उल्लंघन की अब तक 1200 से ज्यादा शिकायतें मिल चुकी हैं, जिनमें से ज्यादातर सत्तारूढ़ दल भाजपा के खिलाफ हैं.

आयोग के समक्ष बस्तर से लेकर सरगुजा तक आचार संहिता उल्लंघन की शिकायतें दर्ज की गई हैं जिनमें में शासकीय अधिकारियों व कर्मियों के विरुद्ध भी मामले शामिल हैं.

राज्य निर्वाचन कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार, शिकायतों में मुख्यमंत्री रमन सिंह, मंत्री बृजमोहन अग्रवाल के विरुद्ध भी शिकायते हैं. इनमें मुख्यमंत्री आवास में भाजपा संगठन की बैठक एवं अग्रवाल के विरुद्ध पंपलेट प्रकाशन में आचार संहिता उल्लंघन का आरोप है.

मुख्य निर्वाचन आयुक्त (सीईसी) वी.एस. संपत ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) सुनील कुजूर से रिपोर्ट तलब की है. अभी इन पर निर्णय का इंतजार है. सूत्रों के अनुसार, राज्य कार्यालय को पहले और दूसरे चरण की अधिसूचना जारी होने के बाद से अब तक आचार संहिता उल्लंघन की 1200 शिकायतें प्राप्त हुई हैं.

प्रदेश के संयुक्त सीईओ डी.डी. सिंह ने बताया कि इनमें से अब तक 300 शिकायतों का निराकरण किया जा चुका है. शेष 900 शिकायतों में जांच प्रतिवेदन प्राप्त हो रहे हैं. अधिकांश शिकायतें में वर्षो से एक ही स्थान पर पदस्थ अधिकारी, कर्मचारियों से संबंधित हैं, तो कुछ मामलों में शासकीय अमले पर सत्तारूढ़ दल के पक्ष में चुनाव कार्य में संलग्न होने की शिकायत भी शामिल है. इन मामलों पर अंतिम निर्णय शीघ्र ही लिया जाएगा.

Tags: , , ,