नेताओं के निजी जीवन पर चर्चा न हो: भाजपा

Friday, April 11, 2014

A A

भारतीय जनता पार्टी

नई दिल्ली | एजेंसी: भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस को उसके नेताओं की जिंदगी के निजी मुद्दे को सार्वजनिक रूप से उछालने के प्रति चेतावनी देते हुए कहा कि भाजपा को भी गांधी परिवार के कई ‘पारिवारिक मुद्दों’ की जानकारी है.

भाजपा नेता रवि शंकर प्रसाद ने शुक्रवार को कहा, “नेहरू-गांधी परिवार के भी कई मुद्दे हैं जिसे हम जानते हैं. इनमें से कुछ के तो दस्तावेजी सबूत हैं.”

उन्होंने कहा, “लेकिन हम इसे सार्वजनिक चर्चा में नहीं लाएंगे, क्योंकि हमारे कुछ मूल्य हैं.”

पार्टी की यह टिप्पणी कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा शुक्रवार को किए गए उस व्यंग्य के बाद आई है जिसमें राहुल ने कहा कि पार्टी महिला अधिकारिकता की बात करती है लेकिन अपने प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी की पत्नी जशोदाबेन के बारे में बात करने से क्यों कतराती है.

प्रसाद ने कहा, “मोदी के बड़े भाई ने एक पत्र लिखा है और साफ किया है कि यह बाल विवाह था. उसके बाद वे संघ के प्रचारक बन गए. जब बड़े भाई ने स्पष्टीकरण दे दिया तो कांग्रेस इस मुद्दे को क्यों उठा रही है?”

मोदी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (संघ) के ‘प्रचारक’ या जमीनी कार्यकर्ता थे. प्रचारक को अविवाहित रहना होता है.

मोदी ने वड़ोदरा लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से नामांकन भरते समय पत्नी का नाम जशोदाबेन लिखा है. अभी तक उन्होंने अपनी शादी के मुद्दे पर चुप्पी साध रखी थी.

पार्टी की प्रवक्ता निर्मला सीतारमण ने कहा, “वे (कांग्रेसी) मोदी को रोकने के लिए किसी भी स्तर तक जा सकते हैं.”

Tags: ,