मोदी, प्रियंका से सजा पटाखा बाजार

Saturday, November 2, 2013

A A

दीपावली के फटाखे

लखनऊ | एजेंसी: दीपावली के मौके पर इस बार नेताओं ने अभिनेताओं को पूरी तरह से पछाड़ दिया है. राजनीति के अखाड़े में जोर आजमाइश करने वाले इन राजनेताओं की प्रतिद्वंद्विता दीपावली के इस खास मौके पर भी नजर आ रही है. भारतीय जनता पार्टी का चेहरा बन चुके नरेंद्र मोदी के नाम पर बने रॉकेट की जबर्दस्त बिक्री हो रही है, वहीं कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की बेटी प्रियंका वाड्रा के नाम पर बिक रही फुलझड़ियां भी लोगों के आकर्षण का केंद्र बनी हुई है.

सूबे के अलग-अलग शहरों के बाजारों में नेताओं के चित्र वाले पटाखों की भरमार है. पटाखों के खरीदार पटाखों की प्रति को नेताओं के व्यवहार से भी जोड़ कर देख रहे हैं.

अगर बाजार में मोदी, सोनिया और लाल कृष्ण आडवाणी के नाम से रॉकेट बिक रहे हैं तो मुलायम सिंह यादव व राहुल गांधी के नाम वाले अनार की भी खूब खरीदारी हो रही है.

दुकानदारों का कहना है कि भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार मोदी के चित्र वाले रॉकेट की मांग सबसे अधिक है. मोदी के बाद सोनिया रॉकेट व प्रियंका फुलझड़ी बिक रही हैं, अन्य नेताओं को लेकर जनता में विशेष रुचि नहीं है.

हर बार की अपेक्षा इस बार दीपावली के मौके पर पटाखों में बॉलीवुड के अभिनेता, अभिनेत्रियों की तुलना में राजनेताओं की तस्वीरें ज्यादा दिखाई दे रही हैं. पटाखा विक्रेताओं को राजनेताओं के सहारे माल बिकने की उम्मीद भी है.

पटाखों के थोक विक्रेता साबिर अली कहते हैं कि चुनावी मौसम में पटाखा बाजार भी उसी रंग में रंगे हुए हैं. खरीदार अपने पसंद के नेता की तस्वीर वाले पटाखे ले रहे हैं, बच्चे, युवाओं व बुजुर्गो सभी की पसंद मोदी रॉकेट बना है.

हर बार की अपेक्षा इस बार पटाखा बाजार में रौनक कम है. पटाखों की दुकानें तरह-तरह के अनार, फुलझड़ी, बम, चकरी से सजी हैं, लेकिन उन्हें खरीदने के लिए हर बार की अपेक्षा भीड़ कम है.

सिविल लाइंस के दुकानदार राजेश शर्मा के अनुसार, इस बार बच्चों की भीड़ काफी कम है, इससे उनकी बिक्री प्रभावित हुई है. चौक के दुकानदार अनवर कहते हैं कि तेज आवाज के पटाखों की बिक्री न के बराबर हुई है, बिना आवाज वाले अनार, फुलझड़ी, चकरी ही लोग ले जा रहे हैं.

Tags: , , ,