तंग दवाजे के कारण मची भगदड़

Monday, August 10, 2015

A A

भगदड़

देवघर | समाचार डेस्क: झारखंड के देवघर जिले के बेलाबगान के पास मची भगदड़ में 11 कांवड़िये मारे गये. इस घटना में 30 से ज्यादा कांवड़िए घायल हुए हैं. मुख्यमंत्री रघुवर दास ने घटना पर दुख जताते हुए मृतक आश्रितों को दो-दो लाख रुपये की आर्थिक मदद की घोषणा की है. पुलिस के अनुसार, सावन के दूसरे सोमवार के कारण बाबा बैद्यनाथ धाम मंदिर के पास रविवार देर रात से ही श्रद्धालुओं की भीड़ जुटनी शुरू हो गई थी. मंदिर से करीब चार किलोमीटर दूर बेलाबगान के पास श्रद्धालुओं की भारी भीड़ जमा थी. उसी दौरान भगदड़ मच गई. इसमें 11 कांवड़ियों की मौत हो गई, जबकि 30 से ज्यादा कांवड़िए घायल हुए हैं.

उधर, झारखंड के देवघर स्थित प्रसिद्ध बैद्यनाथधाम में सोमवार को भगदड़ मचने की वजह अत्यधिक भीड़ और मंदिर का तंग दरवाजा था. भगदड़ में 11 लोगों की मौत हो गई है.

बैद्यनाथधाम मंदिर के मुख्य पुजारी कार्तिक मिश्रा ने बताया कि मंदिर में जल चढ़ाने पहुंचे श्रद्धालुओं के बीच पहले प्रवेश करने के लिए मची होड़ के कारण अव्यवस्था पैदा हो गई.

मिश्रा ने खहा, “सोमवार सुबह मंदिर दर्शन के लिए श्रद्धालु रविवार रात से ही कतारों में लग गए थे. सोमवार तड़के चार बजे जब मंदिर का फाटक खुला, तो लोगों के बीच मंदिर में पहले प्रवेश करने की होड़ लग गई और इससे वहां अव्यवस्था फैल गई.”

उन्होंने बताया, “मौके पर मौजूद पुलिस ने भीड़ को नियंत्रित करने के लिए मामूली लाठीचार्ज किया, जिसके बाद भगदड़ मच गई.”

मिश्रा ने बताया कि भगदड़ में 60-70 लोग घायल हुए हैं, लेकिन इससे श्रद्धालुओं के बीच धार्मिक उत्साह और जोश में फर्क नहीं पड़ा है.

उन्होंने कहा, “भगदड़ के बाद भी हजारों लोग भगवान शिव को जल चढ़ाने के लिए कतार में खड़े थे.”

उन्होंने बताया कि मंदिर का प्रवेश द्वार बेहद तंग है और भगदड़ मचने का एक कारण यह भी है. मिश्रा ने कहा, “मुख्य मंदिर का प्रवेश द्वार बेहद तंग है, जिसमें से एक बार में एक-दो लोग ही गुजर सकते हैं. श्रद्धालुओं की भारी भीड़ मंदिर प्रशासन के लिए हमेशा से मसला रही है.”

राजधानी रांची से देवघर की दूरी 300 किलोमीटर है. हिंदू कैलेंडर के श्रावण माह में 30 लाख से ज्यादा श्रद्धालु यहां बैद्यनाथधाम मंदिर में जल चढ़ाने पहुंचते हैं. विशेषकर सोमवार के दिन मंदिर दर्शन को आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या दो लाख तक पहुंच जाती है.

पुलिस उपायुक्त अमित कुमार ने कहा कि भगदड़ मचने का कारण अत्यधिक भीड़ थी. उन्होंने बताया कि घायलों को देवघर के सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

Tags: , , ,