जयपुर में मूक-बधिर नाबालिगों से रेप

Saturday, May 18, 2013

A A

बलात्कार

जयपुर | विशेष संवाददाता: जयपुर के सरकारी अनाथालय की मूक बधिर नाबालिग लड़कियों के साथ पिछले कई महीनों से रेप किये जाने का शर्मनाक मामला सामने आया है. जयपुर के समाज कल्याण विभाग के अनाथालय में रहने वाली इन नाबालिग लड़कियों को स्पीच थेरेपी के नाम पर एक संस्थान में ले जाया जाता था, जहां उनके साथ बलात्कार किया जाता था.

गौरतलब है कि जयपुर के समाज कल्याण विभाग के अनाथालय में सात साल पहले भी एक नाबालिग बच्ची के गर्भवती होने का मामला सामने आया था. उस समय भी हंगामा हुआ था लेकिन उस मामले में आज तक जांच ही नहीं हो पाई है. अब एक बार फिर यह मामला सामने आया है, जिसने समाज को शर्मशार कर दिया है.

पुलिस सूत्रों का कहना है कि जयपुर के समाज कल्याण विभाग के अनाथालय में रहने वाली लगभग सौ नाबालिग मूक-बधिर लड़कियों को अलग-अलग तरह का प्रशिक्षण दिया जाता है. इसके अलावा इनमें से कई बच्चियों को आत्मनिर्भर बनाने के लिये उन्हें स्पीच थैरेपी भी दी जाती थी.

इन मूक बधिर नाबालिग लड़कियों को जयपुर के कनोता में आवाज फाउंडेशन नामक एक एनजीओ स्पीच थैरेपी के नाम पर बुलाता था और उसके अधिकारी बच्चियों के साथ रेप करते थे. पिछले महीने पहली बार यह मामला तब सामने आया, जब रेप का विरोध कर रही एक लड़की को संस्था के अधिकारी ने मारा-पीटा.

पीड़ित बच्ची ने जब शिकायत की तो कुछ और लड़कियों ने भी अपने साथ रेप और छेड़छाड़ की बात कही. इसके बाद अनाथालय की ओर से पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई. पुलिस ने फिलहाल अनाथालय के वार्डन, एनजीओ संचालक, एनजीओ संचालक की पत्नी समेत 5 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस का कहना है कि मामले के दो अन्य आरोपी फरार हैं, जिनकी गिरफ्तारी के लिये छापामारी की जा रही है.

Tags: , , , ,