विधानसभा के अंतिम सत्र पर टिकी नजरें

Wednesday, June 19, 2013

A A

छत्तीसगढ़ विधानसभा

रायपुर | संवाददाता:छत्तीसगढ़ की तीसरी विधानसभा का अंतिम सत्र 15 जुलाई से आयोजित किया गया है. लेकिन विपक्षी दल कांग्रेस के तेवर देखते हुये अनुमान लगाया जा रहा है कि यह सत्र शायद ही 19 जुलाई तक चल सके. है. इस सत्र को लेकर नेता प्रतिपक्ष रविन्द्र चौबे ने कहा कि कांग्रेस विधायक पहले दिन के श्रद्धांजलि में तो रहेंगे, शेष सत्र को लेकर विधायक दल की बैठक में निर्णय लिया जाएगा. विधायकों के इस्तीफे या बहिष्कार की खबरों पर श्री चौबे ने कहा कि इस्तीफा तो विषय है ही पर हम इससे आगे बढ़कर भी कदम उठा सकते हैं.

विधानसभा के सचिव देवेंद्र वर्मा के अनुसार विधानसभा का यह सत्र 15 से 19 जुलाई तक होगा, जिसमें वित्तीय व विधायी कार्य सम्पादित किए जाएंगे. पहले दिन दिवंगतों को श्रद्धांजलि के बाद अगले 4 दिन शासकीय कार्य निपटाए जाएंगे. सत्र की अधिसूचना मंगलवार को जारी होने के साथ ही प्रश्न जमा करने का सिलसिला शुरू हो जाएगा.

इस सत्र में विस की दर्जन भर समितियों के जांच प्रतिवेदन भी पेश किए जाएंगे. सरकार की ओर से प्रथम अनुपूरक बजट एवं एक-दो विधेयक पेश करेगी. माना जा रहा है कि इस सत्र में आम जनता तक संदेश पहुंचाने के उद्देश्य से कांग्रेस पार्टी कोई सनसनीखेज कदम उठा सकती है. हालांकि नेता प्रतिपक्ष रवींद्र चौबे ने इस बारे में अपनी रणनीति को सार्वजनिक नहीं किया है. लेकिन कांग्रेस कोई बड़ा कदम उठाएगी, इस बात पर सबकी नजरें लगी हुई हैं.

Tags: ,