छग तीसरा बड़ा एल्यूमिनियम उत्पादक

Friday, January 16, 2015

A A

बालको balco

कोरबा | अब्दुल असलम: छत्तीसगढ़ सरकार ने बालको को दी 1200 मेगावॉट विद्युत संयंत्र के प्रचालन की अनुमति दे दी है. वेदांत समूह की कंपनी सेसा स्टरलाइट लिमिटेड की अनुषंगी कंपनी बालको ने यह घोषणा की है कि उसने छत्तीसगढ़ राज्य सरकार से 1200 मेगावॉट क्षमता के विद्युत संयंत्र के प्रचालन की अनुमति प्राप्त कर ली है. इस विद्युत संयंत्र में चार इकाइयां हैं. प्रत्येक की क्षमता 300 मेगावॉट है. राज्य सरकार के महत्वपूर्ण निर्णय से बालको को अपनी वर्तमान 3.50 लाख टन प्रति वर्ष एल्यूमिनियम उत्पादन क्षमता को 5.70 लाख टन प्रति वर्ष तक ले जाने में मदद मिलेगी. इससे छत्तीसगढ़ राष्ट्र का तीसरा सबसे बड़ा एल्यूमिनियम उत्पादक राज्य बन जाएगा.

बालको के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं पूर्णकालिक निदेशक रमेश आर. नायर ने कहा है कि ‘‘ यह वर्ष बालको की स्थापना का स्वर्ण जयंती वर्ष है. ऐसे समय में संयंत्र प्रचालन की अनुमति प्राप्त होने पर बालको प्रबंधन छत्तीसगढ़ शासन के प्रति आभारी है. इससे बालको के अत्याधुनिक एल्यूमिनियम स्मेल्टर के उत्तरोत्तर प्रगति में मदद मिलेगी और संयंत्र 5.70 लाख टन प्रति वर्ष की उत्पादन क्षमता प्राप्त कर लेगा. बालको के विद्युत संयंत्र और स्मेल्टर का छत्तीसगढ़ के राजस्व में महत्वपूर्ण योगदान तो होगा ही, रोजगार तथा डाउनस्ट्रीम उद्योगों में बढ़ोत्तरी होगी. बालको राष्ट्र की संपत्ति है. राष्ट्र की प्रगति में नए विद्युत संयंत्र का महत्वपूर्ण योगदान होगा.’’

1200 मेगावॉट कैप्टिव विद्युत संयंत्र की स्थापना के लिए वेदांत समूह ने 5,000 करोड़ रुपए निवेश किए हैं. बालको की दो विद्युत इकाइयां 270 मेगावॉट तथा 540 मेगावॉट विद्युत संयंत्र पहले से ही मौजूद हैं. विद्युत तथा स्मेल्टर संयंत्रों के प्रचालन से राज्य को विभिन्न मदों में मिलने वाली राजस्व राशि लगभग 250 करोड़ रुपए होगी.

बालको छत्तीसगढ़ राज्य की एकमात्र एल्यूमिनियम उत्पादक कंपनी है. नए विद्युत संयंत्र के प्रचालन और स्मेल्टर की उत्पादन क्षमता में वृद्धि से छत्तीसगढ़ राज्य में देश का 25 फीसदी से भी अधिक एल्यूमिनियम का निर्माण प्रारंभ हो जाएगा. बालको की स्थापना वर्ष 1965 में हुई थी. तब संयंत्र की स्थापित एल्यूमिनियम उत्पादन क्षमता 1 लाख टन प्रति वर्ष थी.

बालको की एल्यूमिनियम तथा विद्युत उत्पादन क्षमता में बढ़ोत्तरी से डाउनस्ट्रीम उद्योगों में लगभग चार गुना बढ़ोत्तरी की संभावना है. इससे रोजगार में भी इजाफा होगा. उत्पादन क्षमता में बढ़ोत्तरी के साथ ही सामुदायिक विकास कार्यों में कंपनी की भागीदारी मजबूत होगी.

बालको एवं वेदांत समूह पर एक नजर: बालको लंदन मेटल एक्सचेंज में सूचीबद्ध वेदांत समूह की कंपनी सेसा स्टरलाइट लिमिटेड पूर्व नाम सेसा गोवा लिमिटेड की अनुषंगी कंपनी है. वेदांत समूह दुनिया की प्रमुख विविध प्राकृतिक संसाधन कंपनियों में से एक है. समूह का व्यवसाय प्रचालन भारत, दक्षिण अफ्रिका, ऑस्ट्रेलिया, आयरलैंड, नामीबिया, लाइबेरिया और श्रीलंका में है. सेसा स्टरलाइट कंपनी तेल एवं गैस, जिंक, लेड, सिल्वर, कॉपर, लौह अयस्क, एल्यूमिनियम और व्यावसायिक विद्युत के उत्पादन में संलग्न है. सेसा स्टरलाइट अपने प्रचालन क्षेत्रों में स्थानीय समुदाय के जीवन स्तर में बढ़ोत्तरी, स्वास्थ्य, सुरक्षा एवं पर्यावरण के प्रति पूर्णतः सजग है. सेसा स्टरलाइट लिमिटेड भारत में नेशनल स्टॉक एक्सचेंज तथा बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध है तथा न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज में एडीआर सूचीबद्ध है.

Tags: , , ,