होटलों में सर्विस चार्ज से सजग

Thursday, September 24, 2015

A A

मेन्यू कार्ड

रायपुर | समाचार डेस्क: किसी भी होटल का बिल भरते समय देख ले कि आपसे सर्विस टैक्स लिया जा रहा है या सर्विस चार्ज. सर्विस टैक्स तथा वैट सरकार के पास जमा होता है जबकि सर्विस चार्ज होटल के मालिक के खाते में चला जाता है. इसके अलावा सर्विस चार्ज का उल्लेख पहले से ही होटल के मेन्यू में दिया जाना अनिवार्य है. यहां तक कि सर्विस चार्ज कितना लिया जायेगा उसके भी उल्लेख होना चाहिये.

आमतौर पर ग्राहक सर्विस चार्ज को सर्विस टैक्स समझकर उसका भुगतान कर देते हैं. ग्राहकों को इसके लिए जागरूक करने केंद्रीय सर्विस टैक्स विभाग अभियान चलाएगा. ग्राहकों की सुविधा के लिए शिकायत नंबर जारी किए जाएंगे. यदि सर्विस चार्ज का जिक्र मेन्यू कार्ड में नहीं है उसके बाद भी होटल द्वारा सर्विस चार्ज लिया जा रहा है तो इसकी शिकायत सर्विस टैक्स डिपार्टमेंट में किया जा सकता है.

एसके बंसल, उपायुक्त सर्विस टैक्स डिवीजन, दुर्ग ने कहा कि, “रेस्त्रां, होटल व अन्य फूड ज्वाइंट्स सर्विस टैक्स से मिलता जुलता कोई शुल्क जैसे सर्विस चार्ज मेन्यू कार्ड में उल्लेख किए बिना वसूलता है तो यह गलत है. इसकी जागरुकता को लेकर विभाग द्वारा अभियान चलाया जाएगा. ग्राहक असानी से शिकायत कर सकें इसका प्रबंध भी किया जाएगा. इसके लिए होटल व रेस्त्रां संचालकों के साथ बैठक भी की जाएगी.”

Tags: , , , , , ,