मुख्यमंत्री का गोद लिया जिला पिछड़ा

Sunday, January 8, 2017

A A

बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ

बैकुंठपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने जिस जिले को गोद लिया है वहां की हजारों लड़कियों ने बीच सत्र में स्कूल जाना छोड़ दिया है. मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कोरिया जिला को गोद लिया है. लेकिन यहीं पर सरकारी योजनायें ढ़ंग से लागू नहीं हो रही है. कोरिया जिले की 5 हजार 6 सौ 58 ग्रामीण लड़कियों ने बीच सत्र में स्कूल जाना छोड़ दिया है. इसका खुलासा साल 2016-17 के लिये महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा कराये गये सर्वे से हुआ है. सर्वे के मुताबिक 11-14 तथा 14-18 की उम्र की ग्रामीण लड़कियों ने पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी है. इससे राज्य में चल रहे बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओं योजना के दावे और जमीनी हकीकत के बीच की दूरी का सहज ही आभास हो जाता है.

जिसमें बैकुंठपुर की 1369, मनेन्द्रगढ़ की 1475, सोनहत की 427, भरतपुर की 1255, खड़गवां की 1006 एवं चिरीमिरी की ही 126 लड़कियां हैं.

एक तरफ बेटियों को स्कूल ले जाने के लिये सरकार प्रयास कर रही है तो दूसरी तरफ मुख्यमंत्री द्वारा गोद लिये गये जिले की लड़कियां बीच सत्र में स्कूल जाना छोड़ रहीं हैं.

इसके पीछे कई सामाजिक कारण बताये जा रहें हैं जिसमें अभिवाहकों में जागरुकता में कमी सबसे ज्यादा है. दूसरी तरफ गांवों में लड़कियों को ज्यादा पढ़ाने से उसके लिये योग्य वर ढ़ूढ़ना मुश्किल हो जाता है. सर्वे में इस बात का उल्लेख तो नहीं है पर माना जा रहा है कि गांवों में कम उम्र में ही लड़ककियों की शादी करा दी जाती है.

Tags: , , , , ,