छत्तीसगढ़ के राइस मिलर्स करेंगे तालाबंदी

Thursday, March 27, 2014

A A

छत्तीसगढ़

रायपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ में कस्टम मिलिंग के चलते हो रहे घाटे से परेशान छत्तीसगढ़ राइस मिलर्स एसोसिएशन ने 1 अप्रैल से प्रदेशभर में राइस मिलों को बंद रखने का निर्णय लिया है. एसोसिएशन का आरोप है कि इस मामले में सरकार से कई बार चर्चा की गई, लेकिन सरकार ने कोई सार्थक पहल नहीं की.

छत्तीसगढ़ प्रदेश राइस मिलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष योगेश अग्रवाल का कहना है कि प्रदेश की 1500 राइस मिलें इस समय भारी संकट के दौर से गुजर रही हैं. राइस मिलर्स पर सड़े हुए धान की कस्टम मिलिंग के लिए दबाव बनाया जा रहा है. ऐसे काम करना मुश्किल है.

छत्तीसगढ़ प्रदेश राइस मिलर्स एसोसिएशन ने आरोप लगाया कि अधिकारियों की लापरवाही, भ्रष्टाचार एवं ठेकेदारों की मनमानी की वजह से राइस मिलों को बंद करना पड़ रहा है. कस्टम मिलिंग में मिलर्स को काफी घाटा हो रहा है, मिलर्स राइस मिल चला पाने में असमर्थ हैं.

अब एसोसिएशन ने भारतीय खाद्य निगम सहित सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. करीब 14 सूत्री मांग को लेकर मिलर्स 1 अप्रैल से हड़ताल शुरू कर रहे हैं. फिलहाल सरकार की तरफ से उनकी मांगों के संबंध में चर्चा जारी है. लेकिन अभी तक किसी भी मांग पर सहमति नहीं बनी है. एसोसिएशन ने आरोप लगाया कि शासन के अड़ियल रवैये की वजह से मिलर्स को अपनी राइस मिले बंद करनी पड़ रही है.

Tags: ,