छत्तीसगढ़ में रिकॉर्ड तोड़ ठंड

Tuesday, December 30, 2014

A A

छत्तीसगढ़ में ठंड

रायपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ में पड़ रही कंडाके की ठंड का असर मंगलवार को भी जारी रहा. मौसम विभाग के अनुसार, ठंड ने पिछले 10 सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. ठंड का असर उत्तरी भारत से आने वाली ट्रेनों पर भी पड़ रहा है. ट्रेनें राजधानी में घंटों लेट से पहुंच रही हैं. प्रदेश में सबसे कम तापमान अंबिकापुर में 4.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया. वहीं राजधानी का न्यूनतम तापमान 9.2 डिग्री सेल्सियस रहा.

पिछले कुछ दिनों से जारी शीतलहर से पूरे प्रदेश में कड़ाके की ठंड पड़ रही है. मौसम विभाग ने भी आगामी कुछ दिनों तक मौसम स्थिर रहने की संभावना जताई है. उत्तरी हवाओं के चलते प्रदेश में ठंड एक बार फिर बढ़ गई है. ये हवाएं हिमालय से प्रदेश की ओर पहुंच रही हैं.

मौसम विभाग के अनुसार, तापमान में अभी और कमी आ सकती है. मंगलवार सुबह से ही जारी ठंड ने लोगों को फिर कंपकंपा दिया है. लोग दिन में गर्म कपड़े पहनने मजबूर हुए. वहीं रात में नगर निगम रायपुर की ओर से दर्जनों जगहों पर अलाव की व्यवस्था भी की गई है. रात के तापमान में लगातार कमी आ रही है, जिससे ठंड बढ़ रही है.

मौसम विभाग के अनुसार बार-बार हवा की दिशा बदल रही है. उनका कहना है कि उत्तर से ठंडी हवाएं आ रही हैं. बताया जाता है कि प्रदेश के सरगुजा, बिलासपुर और बस्तर संभाग के ज्यादातर स्थानों सहित रायपुर संभाग में भी दिन में भी कड़ाके ही ठंड पड़ रही है. ठंड को देखते हुए नगर निगम रायपुर ने भी राजधानी के दर्जनभर से ज्यादा स्थानों पर अलाव की व्यवस्था की है.

कृषि मौसम वैज्ञानिक डॉ. एएसआरएस शास्त्री के अनुसार, माना एयरपोर्ट में तापमान 9.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया. वहीं लाभांडी में तापमान 6.9 डिग्री सेल्सियस रहा. नया रायपुर और ग्रामीण इलाकों में ठंड बढ़ी हुई है.

00प्रदेश के प्रमुख जिलों में न्यूनतम तापमान :
रायपुर 9.2 डिग्री सेल्सियस, राजनांदगांव 10.0, दुर्ग 5.4, बिलासपुर 7.4, पेंड्रा रोड 5.4, अंबिकापुर 4.2 और जगदलपुर में 11.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया.

00नें घंटों लेट :
उत्तर भारत में जारी ठंड ने ट्रेनों की रफ्तार भी धीमी कर दी है. सोमवार को संपर्क क्रांति 15 घंटे और छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस 10 घंटे देरी से रायपुर पहुंची. इन ट्रेनों के अलावा उत्तर भारत से आने वाली अधिकांश ट्रेनें भी घंटों देरी से पहुंच रही हैं.

ट्रेनों की लेटलतीफी से यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. रायपुर रेलवे स्टेशन के स्टेशन मास्टर जी.सी. दास ने बताया कि दिल्ली एवं उत्तर भारत की ओर से आने वाली अधिकांश ट्रेनें लेट चल रही हैं. उनका कहना है कि यह स्थिति कोहरे होने तक जारी रहेगी.

Tags: , , , , , , , ,