छत्तीसगढ़: पीड़िता मां बनी

Wednesday, March 4, 2015

A A

पीड़िता

रतनपुर | उस्मान कुरैशी: दैहिक शोषण की शिकार विधवा महिला ने सरकारी अस्पताल में में स्वस्थ शिशु को जन्म दिया है. मामले कि शिकायत सप्ताह भर पहले रतनपुर थाने में दर्ज कराई गई थी जिस पर न तो अपराध दर्ज किया गया और ना ही किसी प्रकार की जांच कराई गई है.

रतनपुर थाना क्षेत्र में वनांचल के दैहिक शोषण की शिकार 40 वर्शीय विधवा महिला मां बन गई है. मंगलवार की दोपहर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र रतनपुर में उसने सामान्य प्रसव से उसने एक स्वस्थ शिशु को जन्म दिया है. गांव की मितानीन झूलबाई के मुताबिक पेट में दर्द होने की शिकायत पर महिला का बेटा बुलाकर उसे घर ले गया था. जहां हालत बिगड़ने पर महतारी 102 में उसे सरकारी अस्पताल लाया गया जहां उसने स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया है.

महिला के पति का तीन साल पहले स्वर्गवास हो चुका है. वह गांव में अपने चार बच्चों के साथ रहती है. महिला का आरोप है कि गांव के ही बृजलाल यादव नाम के युवक ने करीब डेढ़ साल पहले शराब के नशे में उसकी अस्मत तार तार कर दी. लोकलाज के भय से उसने इसकी जानकारी किसी को नही दी. इस घटना के बाद युवक ने मेरे और मेरे बच्चों का लालन पालन करने का झांसा देकर शारीरिक संबंध बनाए. महिला का आरोप है कि युवक ने कई बार उसके साथ जबरदस्ती भी की. इसी दौरान गर्भ ठहरने की जानकारी होने पर युवक अपने वायदों से मुकर गया. इससे परेशान महिला ने घटना की लिखित शिकायत रतनपुर थाने में 25 फरवरी को दर्ज कराई है. जिस पर किसी भी प्रकार की कार्रवाई नही होने का आरोप महिला के परिजनों ने लगाया है.

मामले में थाना प्रभारी विलियम टोप्पो का कहना है कि घटना की शिकायत की गई है. अब महिला का प्रसव होने की जानकारी भी मिली है. महिला के स्वास्थ में सुधार आने के बाद कार्रवाई की जाएगी.

Tags: , , ,