छत्तीसगढ़: शहीदों को दी श्रद्धांजलि

Thursday, March 31, 2016

A A

लाल गुलाब

रायपुर | समाचार डेस्क: छत्तीसगढ़ ने अपने राज्य आकर शहीद होने वाले सीआरपीएफ के शहीदों को अश्रुपूरित श्रद्धांजलि दी. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने गुरुवार सुबह राजधानी के माना स्थित छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल की चौथी बटालियन परिसर में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के छह शहीद जवानों को पुष्पचक्र अर्पित कर विनम्र श्रद्धांजलि दी. अश्रुपूरित माहौल में इन शहीदों को राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई और उनके पार्थिव शरीरों को उनके घरों के लिए रवाना किया गया. ये पुलिस जवान बस्तर संभाग के ग्राम मेलावाड़ा जिला दंतेवाड़ा के पास बुधवार को नक्सलियों द्वारा किए गए बारूदी सुरंग विस्फोट में शहीद हो गए थे.

चौथी बटालियन परिसर में विधायक द्वय देवती कर्मा और मोहन मरकाम, प्रदेश सरकार के गृह विभाग के प्रमुख सचिव बी.वी.आर. सुब्रमण्यम, केंद्रीय गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव प्रवीण वशिष्ठ, छत्तीसगढ़ के पुलिस महानिदेशक ए.एन. उपाध्याय, विशेष पुलिस महानिदेशक डी.एम. अवस्थी, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के महानिदेशक दुर्गा प्रसाद और वरिष्ठ सुरक्षा सलाहकार के. विजयकुमार ने भी शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की.

नक्सली वारदात में सीआरपीएफ के सात जवान शहीद हुए थे. इनमें से एक शहीद सहायक उप निरीक्षक (रेडियो) डी. विजयराज तमिलनाडु के निवासी थे, जिनका पार्थिव शरीर संभागीय मुख्यालय जगदलपुर से हेलीकाप्टर द्वारा हैदराबाद भेजा गया, जहां से उनके गृह राज्य भेजा जाएगा. जगदलपुर में उन्हें राजकीय सम्मान के साथ श्रद्धांजलि अर्पित की गई.

अन्य छह जवानों के पार्थिव शरीर हेलीकाप्टर द्वारा रायपुर लाए गए और राजकीय सम्मान के साथ उन्हें अंतिम विदाई दी गई. इनमें प्रधान आरक्षक प्रदीप तिर्की ग्राम रायकेरा, जिला गुमला (झारखंड), प्रधान आरक्षक रूपनारायण दास, ग्राम करंजी, जिला पूर्व मैदनीपुर (पश्चिम बंगाल), आरक्षक (आरमोर) देवेंद्र चौरसिया, ग्राम जिगानीबाजार, तहसील एवं जिला देवरिया (उत्तर प्रदेश), आरक्षक मृत्युंजय मुखर्जी, ग्राम पुराथनहाट, जिला बर्दमान (पश्चिम बंगाल) और आरक्षक (चालक) सैन्दाने नाना उदेसिंह, ग्राम नागलवाड़ी, जिला जलगांव (महाराष्ट्र) के निवासी थे.

Tags: , , , , ,