योगेश के परिवार को हर संभव सहायता- रमन

Wednesday, July 27, 2016

A A

रमन सिंह

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने निकटवर्ती बीरगांव निवासी आत्मदाह का प्रयास करने वाले युवक योगेश साहू के निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया है. उन्होंने योगेश के परिवार के प्रति अपनी संवेदना प्रकट की है. डॉ. सिंह ने कहा कि दो दिन पहले ही मुख्यमंत्री सहायता कोष से योगेश के परिवार को उनके इलाज के लिए एक लाख रूपए की सहायता राशि दी जा चुकी थी. आगे उनके परिवार से चर्चा करके परिवार को हर संभव मदद की जाएगी. योगेश का बुधवार तड़के एक स्थानीय प्राइवेट अस्पताल में निधन हो गया.

डॉ. रमन सिंह ने योगेश साहू की मृत्यु की घटना को अत्यंत दुःखद और दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा है कि मानव जीवन अनमोल है. युवाओं को जीवन में कभी निराश नहीं होना चाहिए और कठिन से कठिन परिस्थितियों का सामना भी हिम्मत के साथ करना चाहिए. मुख्यमंत्री ने कहा कि युवाओं को स्वरोजगार और रोजगार से जोड़ने के लिए छत्तीसगढ़ सरकार कई योजनाओं का संचालन कर रही है. युवाओं को इन योजनाओं का लाभ लेने के लिए आगे आना चाहिए. उन्हें पूरी मदद मिलेगी. उनके लिए छत्तीसगढ़ में निःशुल्क कौशल प्रशिक्षण की व्यवस्था की गई है.

उन्होंने कहा छत्तीसगढ़ भारत का पहला राज्य है, जिसने लगभग तीन वर्ष पहले विधानसभा में कानून बनाकर अपने राज्य के युवाओं को कौशल प्रशिक्षण पाने का अधिकार दिया है. इसके लिए युवाओं को कौशल विकास का अधिकार अधिनियम 2013 लागू किया गया है. इसके तहत प्रत्येक युवा जिसकी उम्र 18 से 45 वर्ष के बीच है, जिला कलेक्टर को आवेदन करने पर उसे अधिसूचित कौशल पाठ्यक्रमों में 90 दिनों के भीतर प्रशिक्षण दिलाने का नियम बनाया गया है.

ज्ञातव्य है कि बीरगांव निवासी योगेश साहू ने लगभग एक सप्ताह पहले 21 जुलाई को छत्तीसगढ़ के राजधानी रायपुर में आत्मदाह का प्रयास किया था. उन्हें तुरंत पहले स्थानीय अम्बेडकर अस्पताल में और फिर वहां से एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया. मुख्यमंत्री स्वयं उन्हें देखने प्राइवेट अस्पताल गए थे, जहां उन्होंने युवक के इलाज का सम्पूर्ण खर्च राज्य सरकार की ओर से वहन करने की घोषणा की थी. डॉक्टरों ने इलाज का भरसक प्रयास किया, लेकिन उनके अथक प्रयासों के बावजूद योगेश को बचाया नहीं जा सका. बुधवार तड़के लगभग 3.30 बजे उनका निधन हो गया.

Tags: , , , , , ,