पूर्वी के जीवन में हुआ नया सूर्योदय

Tuesday, September 30, 2014

A A

पूर्वी पंचारिया

रायपुर | एजेंसी: दवा कंपनी में मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव की नौकरी करने वाले सुनील मानते हैं कि उनकी बेटी पूर्वी के जीवन में नया सूर्योदय हुआ है. सुनील पंचारिया कि बेटी पूर्वी का जन्म उसके ननिहाल बरगढ़ उड़ीसा में हुआ था और जन्म के वक्त ऑक्सीजन की कमी से उसका शरीर नीला पड़ा गया था. उस समय गांव के डॉक्टर ने बताया कि बच्ची को कार्डियक प्राब्लम है.

बुर्ला मेडिकल कॉलेज में चेकअप कराने पर पता चला कि पूर्वी के हृदय में छेद है. डॉक्टरों ने सुनील से थोड़ा इंतजार करने कहा कि कई बार बच्चों में यह अपने आप भी ठीक हो जाता है. लेकिन 8-9 महीने बीतने के बाद भी स्थिति में सुधार नहीं आने के कारण डॉक्टरों ने पूर्वी के ऑपरेशन की सलाह दी.

एम.आर.की मामूली तनख्वाह में सुनील के लिये ऑपरेशन की बड़ी रकम जुटाना संभव नहीं था. ऐसे में उन्हें मुख्यमंत्री बाल हृदय सुरक्षा योजना का सहारा मिला और नारायण एम.एम.आई में दिसम्बर 13 में पूर्वी का ऑपरेशन हुआ. अब सवा दो साल की पूर्वी बिल्कुल ठीक है और जल्दी ही नर्सरी स्कूल जाने लगेगी. सुनील और उनकी पत्नी अर्चना मुख्यमंत्री का अत्यंत आभार प्रकट करते हैं.

Tags: , , , ,