छत्तीसगढ़: राजधानी में फिर खूनी डकैती

Sunday, October 2, 2016

A A

raipur robbery

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ की राजधानी में फिर से खूनी डकैती हुई है. शनिवार रात सवा आठ बजे दो बाइक सवार नकाबपोशों ने शराब दुकान से चार लाख रुपये लूट लिये. इस दौरान लुटेरों ने चार राउंड गोली चलाई. जिसमें से एक गोली शराब दुकान के गद्दीदार के पैर में लगी है. घायल गद्दीदार को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है.

अभी हाल ही में रायपुर में एक सराफा व्यापारी पर वार करके उसके पैसे लूट लिये गये थे. सराफा व्यापारी पर हमलें का मामला शांत ही नहीं हुआ था कि शनिवार को टिकरापारा लालपुर के शराब दुकान में फिल्मी अंदाज में लुटेरों ने इस घटना को अंजाम दिया.

मिली जानकारी के अनुसार दो नकाबपोश दुकान से करीब 20 मीटर की दूरी पर रुके. उस समय शराब दुकान में चार ग्राहक थे. लुटेरों ने फायर करते हुये दुकान में प्रवेश किया तथा सीधे गद्दीदार के केबिन में घुस गये. केबिन में घुसते ही लुटेरों ने गद्दीदार अशोक सिन्हा से पैसे की मांग की. विरोध करने पर उसके जांघ में एक गोली मार दी तथा रुपयों से भरा डिब्बा उठाकर चलते बने.

घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस के आला अफसर घटना स्थल पर पहुंचे. सारे शहर की नाकेबंदी कर दी गई परन्तु लुटेरे पकड़ में नहीं आये. बताया जा रहा है कि लूटने के बाद नकाबपोश शहर की ओर भाग निकले. लुटेरों ने अफनी बाइक अंधेरे में खड़ी की थी इसलिये कोई उसका नंबर नहीं देख पाया है. घटना से लगता है कि लुटेरों को शहर के सड़कों की अच्छी तरह से जानकारी है तभी वे शहर की ओर भागे हैं.

राजधानी में हाल ही में हुये अपराध-
उल्लेखनीय है कि अभी 27 सितंबर की रात साढ़े आठ बजे के करीब सराफा व्यापारी प्रवीण नाहटा को अनुपम नगर में गोली से घायल कर उनका बैग लूट लिया गया था. उससे पहले 11 जून को रायपुर के नजदीक के गांव छछानपैरी में पूर्व विधायक डॉ. शिवकुमार डहरिया की माताजी की हत्या कर दी गई. डॉ. शिवकुमार डहरिया के पिताजी पर भी जानलेवा हमला हुआ है. पूर्व उपमहापौर गजराज पगरिया के पुत्र पर गोलीबारी की घटना हुई थी.

सूदखोर के द्वारा वसूली के लिये आकाश तिवारी नामक युवक की वसूली के लिये गोली मार कर हत्या कर दी गयी. 30 जून को व्यवसायी पंकज बोथरा की गोली मारकर हत्या कर लूट लिया गया था. जिसके विरोध में सराफा व्यापारियों ने 2 जुलाई को रायपुर बंद का आव्हान् किया था जो व्यापक रूप से सफल रहा.

रायपुर में साल 2015 में हुये अपराध के आकड़े-
छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में साल 2015 में 40 लोगों की हत्यायें हो चुकी हैं. इसके अलावा 92 लोगों की हत्या की कोशिश हुई थी. राजधानी रायपुर में हत्या की दर 3.6 तथा हत्या की कोशिश की दर 8.2 है.

रायपुर में साल 2015 में 125 रेप हुये थे. रेप की दर 11.1 रही है. जो दिल्ली तथा जोधपुर के बाद देश में बड़े के शहरों में तीसरे स्थान पर है.

रायपुर में साल 2015 में 5368 संज्ञेय अपराध हुये थे.

Tags: , , , , , ,