छत्तीसगढ़: भागवत का विरोध

Wednesday, February 25, 2015

A A

मोहन भागवत-संघ प्रमुख

रायपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ क्रिश्चियन फोरम ने आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है. भागवत के मदर टेरेसा पर दिए बयान के बाद बवाल खड़ा हो गया है. राजस्थान के भरतपुर में दिए गए भागवत के बयान का विरोध रायपुर में भी देखने को मिला. खास बात यह कि क्रिश्चियन फोरम के समर्थन में आम आदमी पार्टी भी सामने आ गई है.

मोहन भागवत ने सोमवार को नोबेल पुरस्कार विजेता मदर टेरेसा पर बयान देते हुए कहा था कि उनके कार्य में सेवाभाव से ज्यादा धर्मातरण की भावना थी. उनके इस बयान के विरोध में मंगलवार को रायपुर के बूढ़ा तालाब धरना स्थल में क्रिश्चियन फोरम और आम आदमी पार्टी ने कहा कि भागवत को तुरंत सार्वजनिक मंच पर इस बयान के लिए माफी मांगनी चाहिए.

‘आप’ के कार्यकर्ताओं के साथ प्रदेश क्रिश्चियन फोरम के अध्यक्ष अरुण पुन्नालाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी क्रिश्चियंस के साथ होने का दिखावा कर रहे हैं. यदि वे सच में क्रिश्चियन समाज के हितैषी हैं तो उन्हें तुरंत मोहन भागवत के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए.

Tags: , , , ,