चारा घोटाले से बड़ा राशन घोटाला

Wednesday, July 30, 2014

A A

भूपेश बघेल-छत्तीसगढ़ कांग्रेस अध्यक्ष

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ में खाद्य सुरक्षा कानून को गैरक़ानूनी तरीक़े से लागू किया गया है. यह सनसनीखेज आरोप कांग्रेस नेता भूपेश बघेल ने बुधवार को एक पत्रकार वार्ता में लगाये हैं. उन्होंने राज्य के मुख्यमंत्री से इस्तीफा मांगा है.

बघेल ने राज्य की भाजपा सरकार पर आरोप लगाया है कि गरीबों को राशन बांटने के लियो जो खाद्य सुरक्षा कानून राज्य में लागू किया गया, उसे विधानसभा में पेश ही नहीं किया गया था. इस तरह यह क़ानून पूरी तरह से असंवैधानिक है.

भूपेश बघेल ने आरोप लगाया कि इस क़ानून को लागू करने से पहले न तो राज्यपाल से इसका अनुमोदन करवाया गया और ना ही इसे राजपत्र में प्रकाशित किया गया. उन्होंने कहा कि इस क़ानून को जिन 27 ज़िलों में कलेक्टरों ने लागू किया गया, उन पर भी असंवैधानिक काम करने का मामला बनता है. उन्होंने कहा कि यह विधायिका के कार्य पर कार्यपालिका का अतिक्रमण है. उन्होंने पूरे मामले को अदालत में भी ले जाने की बात कही है.

भूपेश बघेल ने राज्य की भाजपा सरकार पर आरोप लगाया कि राशन बांटने में जितनी गड़बड़ी की गई है, वह चारा घोटाले से भी बड़ा है. उन्होंने कहा कि राशन बांटने में कम से कम 2000 करोड़ रुपये की हेराफेरी हुई है.

Tags: , , , , ,