नक्सलियों ने की सरपंच की हत्या

Thursday, August 13, 2015

A A

कुल्हाड़ी

रायपुर | समाचार डेस्क: छत्तीसगढ़ के बस्तर में नक्सलियो ने एक सरपंच तथा उप सरपंच की हत्या कर दी है. नक्सलियों ने मुखबिरी के शक में यह हत्या की है. बीजापुर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने इसकी जानकारी गुरुवार को दी.

बस्तर के गुड्साकाल पंचायत के 21 वर्षीय सरपंच सुखदेव नेगी तथा उप सरपंच आशाराम की नक्सलियों ने तेज धारदार हथियार से बुधवार रात को हत्या कर दी थी.

नक्सलियों ने सरपंच तथा उप सरपंच की हत्या करने के अलावा एक पार्षद किरसुराम को बुरी तरह से घायल कर दिया.

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार बड़ी संख्या में नक्सलियों ने गुड्साकाल पंचायत के गांवों में धावा बोल दिया था. नक्सलियों ने सरपंच सुखदेव नेगी को गुड्साकाल गांव, उप सरपंच आशाराम को घाटवाडा गांव और पार्षद किरसुराम को चीखागांव से पकड़कर उन पर धारदार हथियार से हमला कर दिया.

पार्षद किरसुराम को जगदलपुर अस्पताल भेज दिया गया है. इलाके में बड़ी संख्या में सुरक्षा बल तैनात कर दिये गये हैं.

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने राज्य के बीजापुर जिले में नक्सलवादियों द्वारा एक सरपंच और उपसरपंच की हत्या किए जाने की तीव्र निन्दा की है. डॉ. सिंह ने इस वारदात में ग्राम गुड़साकल के सरपंच सुखदेव नेगी और ग्राम भटवारा के उपसरपंच आशाराम मोड़ियामी की मृत्यु पर गहरा दुःख व्यक्त किया है . उन्होंने दोनों पंचायत पदाधिकारियों के शोक संतप्त परिवारों के प्रति अपनी संवेदना प्रकट की है और घायल वार्ड पंच के जल्द स्वास्थ्य लाभ की कामना की है.

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने इस हिंसक वारदात की कठोर शब्दों में भर्त्सना करते हुए कहा है कि पंचायत राज संस्थाओं के निर्वाचित जनप्रतिनिधियों की हत्या करके नक्सलियों ने अपने लोकतंत्र विरोधी अमानवीय चेहरे को एक बार फिर उजागर किया है. डॉ. सिंह ने कहा कि यह घटना इस बात का परिचायक है कि नक्सली हिंसक और तानाशाही मनोवृत्ति के हैं.

Tags: , , ,