नक्सल इलाके में सौर ऊर्जा लैम्प

Saturday, May 21, 2016

A A

सौर ऊर्जा लैम्प

रायपुर | समाचार डेस्क: छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित क्षेत्र के गांवों में अब चौक-चौराहों पर सौर ऊर्जा से संचालित होने वाले लैम्प से रोशनी की जाएगी. क्रेडा के माध्यम से लगाए जाने वाले इन लैम्पों के लिए पंचायतों के द्वारा राशि जुटाई गई है. नक्सल प्रभावित ब्लॉक में बिजली पहुंच विहीन या समस्याग्रस्त गांवों के लिए यह योजना तैयार की गई है.

गरियाबंद जिले के छुरा जनपद उपाध्यक्ष अवधराम साहू ने बताया, “शीघ्र ही इन गांवों के सार्वजनिक स्थल पर सौर ऊर्जा के संचालित होने वाले लैम्प दिखेंगे. बिजली की समस्या की वजह से क्षेत्र की कई प्रमुख सार्वजनिक जगहों पर शाम ढलते ही अंधेरा पसर जाता है, जिसकी वजह से आम जन को दिक्कतों का सामना करना पड़ता है.”

इस नई व्यवस्था से जहां एक ओर बिजली की बचत होगी, वहीं दूसरी तरफ लोगों को भी सुविधा होगी. इन लैम्प के संधारण और रखरखाव की जिम्मेदारी क्रेडा व संबंधित ग्राम पंचायत के हाथों होगी.

गौरतलब है कि क्षेत्र में जंगली हाथियों का भी खतरा बना रहता है जो आमतौर पर अंधेरे में हमला करते हैं. सार्वजनिक जगहों पर लैम्प से रोशनी होने से ग्रामीणों को वन्यजीवों के खतरे से भी निजात मिलेगी.

बताया गया है कि पिपराही, रजनकटा, खट्टी, कनेसर, जुनवानी, मौलिपारा आदि गांव भी सौर ऊर्जा से रौशन होंगे.

Tags: , , , ,