छत्तीसगढ़: लूट गिरोह का भंड़ाफोड़

Wednesday, July 29, 2015

A A

गिरफ्तार

कोरबा | अब्दुल असलम: छत्तीसगढ़ के कोरबा के दीपका क्षेत्र से सराफा व्यवसायी के साथ लूटपाट करने वाले गिरोह को पकडऩे में सीआईटी व दीपका पुलिस को महत्वपूर्ण सफलता मिली है. पुलिस ने गिरोह के सात सदस्यों को गिरफ्तार किया है जिनके पास से कार, 100 ग्राम सोना, 6 किलो चांदी सहित लगभग पांच लाख का सामान बरामद किया है.

गिरोह के चार सदस्य फरार हैं. जिनकी तलाश में पुलिस जुटी हुई है. मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने बताया कि पिछले 15 जुलाई की रात्रि सात बजे दीपका थाना के चैतमा रंजना के पास पूर्व नियोजित तरीके से हथियार लैस आरोपियों ने चांपा निवासी सराफा व्यवसायी शिवनारायण सोनी से जेवरात की लूट कर ली थी. व्यवसायी से मारपीट कर उस पर कट्टा अड़ाते हुए अल्टो कार में रखे 50 हजार रुपए कीमती जेवरात लूट कर फरार हो गए थे. वारदात के बाद दीपका पुलिस हरकत में आई. पुलिस कप्तान अमरेश मिश्रा के निर्देश पर सीआईटी ने आरोपियों की धर पकड़ तेज कर दिया.

पुलिस ने इस वारदात को चुनौती के रूप में लिया. मामले की सूक्ष्मता से जांच की गई. घायल शिवनारायण सोनी ने बताया कि डकैतों ने जिस अल्टो वाहन का इस्तेमाल किया था. उस वाहन का नंबर जेएच सीरीज एवं कलर महरूम होना बताया. उनमें से एक व्यक्ति के मोटा कद काठी तथा सांवला रंग बड़े बाल के हुलिया का पुलिस को पता चला. वाहन की पतासाजी शुरू की गई. जांच के दौरान लिटियाखार तिवरता निवासी लक्ष्मी नारायण व उसके साथी को घूमता देखा गया. जिससे पुलिस को उन पर संदेह हुआ. ग्रामीणों से पूछताछ की गई. पुलिस ने उन से पकड़ कर पूछताछ की जिसमें उन्होंने बताया कि झारखंड के सौदागर मोहल्ला निवासी राजू खान उर्फ कासिम अंसारी, ककईया उर्फ अजीज अंसारी, धर्मेंद्र कुमार लिटियाखार निवासी महिपाल सिंह, राम सिंह और अनिल पटेल के साथ वारदात को अंजाम देना कबूल किया.

गिरोह के चार सदस्य अभी भी फरार हैं. जिनकी तलाश पुलिस कर रही है. आरोपियों ने दीपका के अलावा पाली में भी दस हजार रुपए की लूट की थी. बताया जाता है कि आरोपी राजू खान पेशे से ट्रक ड्राईवर है जिसका कोरबा आना जाना होता था. दीपका के लक्ष्मीनारायण, महिपाल सिंह, राम सिंह, ककईया, संतराम तथा अनिल पटेल से परिचय हुआ था. राजू खान आदतन अपराधी प्रवृत्ति का है जो कि पूर्व में बिलासपुर में हुए चोरी के मामले में जेल जा चुका है. राजू खान एवं उसके दोस्तों ने बड़े सराफा व्यवासायी को रेकी कर लूटने की योजना बनाई थी.

पुलिस ने बताया कि गिरोह के अन्य सदस्य धर्मेंद्र, इरफान, करण सिंह उर्फ मजहर तथा सिराजुद्दीन अपने अल्टो कार से फरार हो गए हैं.

Tags: , ,