छत्तीसगढ़ में 68 फीसदी मतदान

Thursday, April 24, 2014

A A

छत्तीसगढ़ चुनाव

रायपुर | संवाददाता:छत्तीसगढ़ में तीसरे चरण का मतदान शांतिपूर्वक संपन्न हो गया. गुरुवार को संपन्न हुये चुनाव में लगभग 68 प्रतिशत मतदान की खबर है. इससे पहले 10 और 17 अप्रैल को माओवाद प्रभावित 4 सीटों पर मतदान हुआ था, जिसमें माओवादी हिंसा की कई घटनाएं हुई थीं और 16 लोग मारे गये थे. कई जगहों पर पुलिस औऱ माओवादियों के बीच मुठभेड़ की घटनाएं सामने आई थीं.

आज भी जिन 7 लोकसभा क्षेत्रों में मतदान हुये, उसमें झारखंड से लगे हुये जशपुर, बलरामपुर और सरगुजा ज़िले में पुलिस ने माओवादियों की सक्रियता के मद्देनज़र सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये थे. लेकिन सभी सात सीटों पर छोटी-मोटी मामूली गड़बड़ियों के अलावा सब कुछ लगभग निर्विघ्न तरीके से संपन्न हो गया.

आज जिन नेताओं की किस्मत का फैसला मतदाताओं ने किया है, उनमें कोरबा से कांग्रेस सांसद चरणदास महंत हैं. महंत राज्य में कांग्रेस के इकलौते सांसद हैं और केंद्र में कृषि राज्य मंत्री भी. इसके अलावा बिलासपुर से प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की भतीजी करुणा शुक्ला कांग्रेस से चुनाव मैदान में थीं. 30 साल तक भाजपा में रहने के बाद कांग्रेस पार्टी में शामिल होने के तुरंत बाद करुणा शुक्ला को पार्टी ने बिलासपुर से मैदान में उतारा था.

इसके अलावा दुर्ग में भाजपा की महिला शाखा की राष्ट्रीय अध्यक्ष सरोज पांडेय को भाजपा संगठन के भीतर के लोगों से ही दो-चार होते हुये लड़ना पड़ा है, ऐसे में मतदाताओं ने उनका कितना साथ दिया है, इस पर सबकी नज़र लगी हुई है. रायपुर में पिछले 20 सालों से लगातार सांसद रहे रमेश बैस को पहली बार कांग्रेस ने चुनौती देते हुये पूर्व मंत्री व विधायक सत्यनारायण शर्मा को मैदान में उतारा था. ज़ाहिर है राजधानी रायपुर की इस हाईप्रोफाइल सीट पर दोनों दल के लोग दिन भर मतदाताओं को मतदान केंद्र तक ले जाने की मशक्कत में जुटे रहे.

छत्तीसगढ़ के मुख्य निर्वाचन अधिकारी सुनील कुजूर के अनुसार सबसे अधिक 72 प्रतिशत मतदान सरगुजा जिले में हुआ. दुर्ग जिले में 61, बेमेतरा में 57, रायपुर में 62, बलौदा बाजार में 62, बिलासपुर में 62, मुंगेली में 64, जांजगीर चापा में 60, कोरबा में 63, कोरिया में 65, रायगढ़ में 68, जशपुर में 69, सूरजपुर में 71 और बलरामपुर में 69 प्रतिशत मतदान हुआ है.

उन्होंने बताया कि अभी अन्तिम आंकड़े आना शेष है, जिसमें इसमें दो तीन प्रतिशत का इजाफा हो सकता है.

जिन सात सीटों पर आज मतदान हुआ, उसमें तीन सीटें आरक्षित वर्ग की है. जांजगीर चापा सीट अनुसूचित जाति के लिए तथा सरगुजा एवं रायगढ़ अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित है. इस चरण में कुल एक करोड़ 18 लाख 10256 मतदाता थे. मतदान के लिए कुल 14,474 मतदान केन्द्र बनाए गए थे. इस चरण के मतदान के दौरान निर्वाचन आयोग ने वेबकोस्टिंग के जरिए 200 मतदान केन्द्रों पर सीधे नजर रखी.

सर्वाधिक रायपुर जिले के 20 मतदान केन्द्रों पर वेब कैमरे लगाए गए थे. मतदान प्रक्रिया के दौरान 262 स्थानों पर ईवीएम मशीनों तथा 54 स्थानों पर वोटर चेरीफिएबल पेपर ओडिट टैल बदले गए. वीवीपीएटी मशीन रायपुर लोकसभा क्षेत्र में ईवीएम से जोड़कर लगाई गई थी. इसके माध्यम से इस निर्वाचन क्षेत्र के मतदाताओं ने पहली बार अपने द्वारा दिए वोट को कागज की स्लिप पर देखकर पुष्टि की.

राज्य के लगभग सभी स्थानों पर मतदान शुरू होते ही मतदाताओं की कतारें लग गई. लेकिन राज्य में हाल ही में हुए विधानसभा चुनावों जैसी सक्रियता राजनीतिक दलों के कार्यकर्ताओं में नहीं देखी गई. राज्य के शहरी से ज्यादा उत्साह आदिवासी बाहुल क्षेत्रों के मतदाताओं में देखा गया. मतदान आमतौर पर शान्तिपूर्ण रहा.

बिलासपुर क्षेत्र के जरहागांव मतदान केन्द्र पर भाजपा एवं कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच नोकझोंक हुई. बिलासपुर की कांग्रेस प्रत्याशी करूणा शुक्ला ने आरोप लगाया कि जरहागांव मतदान केन्द्र पर राज्य के मंत्री पुन्नूलाल मोहले के नजदीकी रिश्तेदार द्वारा मतदाताओं को भाजपा के पक्ष में मतदान करने के लिए धमकाया. उन्होंने इसकी शिकायत चुनाव आयोग से भी की.

सरगुजा क्षेत्र में रिजर्व में रखे गए एक सेक्टर मजिस्ट्रेट एवं 16 कर्मचारियों को ड्यूटी से गायब पाए जाने पर जिला निर्वाचन अधिकारी ने निलम्बित कर दिया, जबकि जांजगीर चापा संसदीय क्षेत्र के मतदान केन्द्र नम्बर 132 के पीठासीन अधिकारी को नशे की हालत में पाए जाने पर पुलिस को सौंप दिया गया. इन सीटों पर कुल 153 उम्मीदवार चुनाव मैदान में है, जिसमें 15 महिलाएं भी शामिल है.

राष्ट्रीय पार्टियों के अलावा आम आदमी पार्टी, समाजवादी पार्टी के भी उम्मीदवार भी मैदान में है. लेकिन सभी सीटों पर सीधा मुकाबला भाजपा एवं कांग्रेस के उम्मीदवारों के बीच ही है. इन सात सीटों में इस समय छह भाजपा के कब्जे में तथा एक सीट कांग्रेस के कब्जे में है. भाजपा ने कब्जा बरकरार रखने तथा कांग्रेस ने सीटें बढ़ाने के लिए पूरी ताकत झोंकी है.

Tags: , , , ,