छत्तीसगढ़ का कोसा अग्रणी

Wednesday, September 24, 2014

A A

पुन्नूलाल मोहले

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ में साल में 500 मीट्रिक टन कोसा का उत्पादन होता है. जबकि सारे देश में साल में 2000 मीट्रिक दन कोसा का उत्पादन होता है. देश में कोसा उत्पादन के मामले में छत्तीसगढ़ दूसरे स्थान पर है. उन्होंने बताया कि राज्य में हथकरघा बुनकरों के उत्पादों को विपणन सुविधा प्रदान करने के लिए मार्केटिंग एजेंसी फिलिपकार्ट से अनुबंध किया गया है.

बुधवार को नई दिल्ली के स्कोप कॉम्पलेक्स भवन में आयोजित राज्यों के कपड़ा मंत्रियों के सम्मेलन में छत्तीसगढ़ के ग्रामोद्योग मंत्री पुन्नूलाल मोहले ने कहा कि 12वीं पंचवर्षीय योजना में छत्तीसगढ़ 1000 मीट्रिक टन टसर सिल्क का उत्पादन कर देश में प्रथम होगा.

छत्तीसगढ़ के मंत्री मोहले ने केन्द्र सरकार का ध्यान आकृष्ट कराते हुए कहा कि कभी-कभी धागे के भुगतान में विलंब होने के कारण केन्द्र सरकार द्वारा राज्य को दी जाने वाली धागे की आपूर्ति रोक दी जाती है. इससे राज्य में कपड़ा उत्पादन पर विपरीत प्रभाव पड़ता है. उन्होंने केन्द्र से मांग की कि जिस प्रकार केन्द्र द्वारा हैंकयार्न पर 10 प्रतिशत की अनुदान सहायता दी जाती है. उसी प्रकार पॉलिस्टर कॉटन यार्न पर भी छत्तीसगढ़ के बुनकरो को 10 प्रतिशत अनुदान सहायता दी जावे .

छत्तीसगढ़ के ग्रामोद्योग मंत्री पुन्नूलाल मोहले ने बुनकरों को समय पर यार्न की आपूर्ति के लिए राज्य में दो यार्न वेयर हाउस के खोले जाने की भी मांग केन्द्र सरकार से की है. उन्होंने राज्य में कोसा उत्पादको को प्रोत्साहन देने के लिए ट्रेड फेसिलिटेशन सेन्टर स्थापित किये जाने को भी जरूरी बताया है.

Tags: , , , , , , , , ,