चिटफंड कंपनी का मैनेजर गिरफ्तार

Thursday, September 25, 2014

A A

मैनेजर गिरफ्तार

कोरबा | अब्दुल असलम: छत्तीसगढ़ पुलिस ने चिटफंड कंपनी के माध्यम से छत्तीसगढ़ को लोगों को चूना लगाने वाले कंपनी के आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. छत्तीसगढ़ सहित कोरबा जिले में करोड़ो का चूना लगा चुकी चिट फंड कंपनी ग्रीन रे इंटरनेशनल कंपनी में छापामार कारवाई के बाद से फरार चल रहे संचालक, मैनेजर तथा 6 आरोपियो में से मैनेजर को एसआईटी की टीम ने पश्चिम बंगाल से गिरफ्तार कर लिया गया हैं.

गौरतलब है कि कथित तौर पर एक फतवा जारी कर मुसलमानों को व्यापार मे लाभ के बहाने पैसे अधिक कमाने का झांसा दिया गया था. लेकिन जब लोगों के पैसे वापस करने की बात आई तो कंपनी अपना बोरिया बिस्तर समेत छत्तीसगढ़ से रफु चक्कर हो गई थी.

उत्तम कुमार बेहरा नामक इस कथित बैंक मैनेजर को बिलासपुर आईजी द्वारा गठित एसआईटी की टीम लंबे समय से तालाश कर रही थी. पुलिस ने उनके मोबाइल लोकेश के आधार पर एसआईटी की टीम को पश्चिम बंगाल भेजा, जहां पर दबिश देकर मैनेजर उत्तम कुमार बेहरा को गिरफ्तार कर में न्यायालय में पेश किया गया. पुलिस ने आरोपियों को रिमांड में लेकर जेल दाखिल कर दिया हैं.

वहीं, इस मामले में संचालक सहित पांच आरोपी पुलिस गिरफ्त से बाहर हैं. जिनकी तलाश छत्तीसगढ़ की पुलिस कर रही हैं. गौरतलब हैं कि कोरबा,बिलासपुर और रायपुर पुलिस ने उनके ठिकानो पर छापामार कारवाई तीन माह पहले की थी. उनके दफ्तर से कई दस्तावेज जब्त कर आफिस को सील कर दिया था.

कंपनी संचालको पर आरोप है कि उन्होंने कोरबा सहित छत्तीसगढ़ के कई लोगो से पैसे जमा करने पर ब्याज देने का लालच देकर करोड़ों रुपये जमा कराये थे. जिसमें अधिकांश ग्राहक मुसलिम समाज के लोग हैं.

उल्ळेखनीय है कि इसके लिये कथित तौर पर एक फतवा जारी कर मुसलमनों को व्यापार मे लाभ के बहाने पैसे अधिक कमाने का झांसा दिया गया था लेकिन जब लोगो के पैसे वापसी करने की बात आई तो कंपनी अपना बोरिया बिस्तर समेत रफु चक्कर हो गई थी.

Tags: , , , , , , , , , , ,