पक्षियों की मौत, ग्रामीणों ने श्राद्ध किया

Saturday, October 18, 2014

A A

पक्षियों का श्राद्ध

कोरबा | अब्दुल असलम: छत्तीसगढ़ के कोरबा के कनकी गांव में चार दिन पहले हुये पक्षियों के मौत के बाद ग्रामीणों ने उनका श्राद्ध करवाया. गौरतलब है कि चक्रवाती तूफान ‘हुदहुद’ के कारण इस गांव में सौ से अधिक प्रवासी पक्षियो के मौत हो गई थी.

जिससे दुखी ग्रामीणों ने पूरे विधि विधान से कनकेश्वर मंदिर में श्राद् कर मुंडन कराया. पक्षियों के श्राद्ध के बाद गांव वालो को भोज कराया.

उल्लेखनीय है कि हम कनकी गांव में पिछले कई दशको से प्रवासी पक्षी हजारों की संख्या में मानसून का पैगाम लेकर आते हैं. प्रजनन के लिये खूबसूरत मई माह से आने शुरु होते हैं. ये प्रवासी पक्षी चुलाई से सितंबर तक पेड़ों पर घोसला बनाकर अंडे देते हैं. अँडे से बच्चा होने के बाद अक्टूबर माह में प्रवासी पक्षी अपने देश लौट जाते हैं.

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ के कोरबा के कनकी गांव के ग्रामाण इनसे भावनात्मक रूप से जुड़े हुए हैं तथा प्रवासी पक्षियों के गांव आने को प्रकृति का वरदान मानकर चलते हैं.

Tags: , , , , , ,