बाढ़ राहत: उमर अब्दुल्ला ने छग से मांगा चावल

Thursday, September 11, 2014

A A

कश्मीर में बाढ़.

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने जम्मू-कश्मीर के बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए छत्तीसगढ़ सरकार की ओर से दस करोड़ रूपए की सहायता देने की घोषणा की है. यह राशि नगद और चावल के रूप में दी जाएगी. रमन सिंह ने बुधवार रात राजधानी रायपुर में अपने निवास पर वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक में यह निर्णय लिया.

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने बैठक के दौरान केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से जम्मू-कश्मीर के प्राकृतिक विपदा से उत्पन्न परिस्थितियों के बारे में टेलीफोन पर बातचीत की और छत्तीसगढ़ की ओर से मदद की पेशकश की. रमन सिंह ने जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला से भी सेटेलाइट फोन पर सम्पर्क कर उन्हें छत्तीसगढ़ की ओर से नगद और वस्तु के रूप में सहायता देने की पेशकश की.

उमर अब्दुल्ला ने डॉ. सिंह का आभार मानते हुए उनसे छत्तीसगढ़ के चावल की गुणवत्ता को देखते हुए एक रैक चावल भेजने का आग्रह किया. डॉ. सिंह ने इसे तुरंत स्वीकार कर लिया और बैठक में मौजूद अधिकारियों को तत्काल आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिए.

मुख्यमंत्री ने बैठक में वहां के बाढ़ ग्रस्त लोगों के लिए अपने एक दिन का वेतन देने का भी निर्णय लिया. उन्होंने छत्तीसगढ़ के सभी अधिकारियों और कर्मचारियों से भी बाढ़ पीड़ितों के लिए एक-एक दिन का वेतन मुख्यमंत्री सहायता कोष में देने की अपील की.

डॉ. सिंह ने प्रदेशवासियों से भी अपील की है कि वे प्राकृतिक संकट की इस घड़ी में जम्मू-कश्मीर के लोगों की मदद के लिए खुले दिल से आगे आए और इसके लिए छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री सहायता कोष में चेक के रूप में अधिक से अधिक अंशदान करें.

नागरिक अपना अंशदान मुख्यमंत्री सहायता कोष, मुख्यमंत्री सचिवालय, छत्तीसगढ़ शासन मंत्रालय नया रायपुर के पते पर भेज सकते हैं. इसके लिए मुख्यमंत्री सचिवालय में अलग से बैंक खाता भी खोला जा रहा है.

Tags: , , , , , , , , ,