झीरमकांड का नक्सली मारा गया

Sunday, May 22, 2016

A A

नक्सल

रायपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ में बीजापुर जिले के गंगालूर थाना क्षेत्र के जंगल में हुई मुठभेड़ में झीरमकांड का मोस्टवांटेड नक्सली मनोज हपका मारा गया. नक्सली दल में शामिल मनोज की महिला साथी ताती पांडे की भी इस दौरान मौत हो गई.

पुलिस ने मनोज पर पांच लाख व ताती पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित किया था.

पुलिस ने बताया कि मारे गए दोनों नक्सलियों की पहचान आत्मसमर्पण करने वाले नक्सलियों ने की.

एसपी के.एल. ध्रुव ने बताया कि गंगालूर थाना के टीआई अब्दुल समीर के नेतृत्व में सीआरपीएफ 85वीं बटालियन की ‘ए’ कंपनी रेड्डी कैम्प, कोबरा 204 बटालियन और ‘डी’ कंपनी शनिवार रात जिले के अलग-अलग जगहों पर सर्चिग कर रही थी.

रविवार सुबह जब जवान जारगोइया और रेड्डी के बीच पहाड़ी और जंगली रास्तों से आगे बढ़ रहे थे, तभी नक्सलियों ने जवानों पर हमला कर दिया. आधे घंटे की मुठभेड़ के बाद नक्सली कमजोर पड़ गए. उसके बाद पहाड़ी और जंगल की आड़ लेकर नक्सली भाग गए.

घटनास्थल की तलाशी के दौरान मौके से मनोज हपका एवं ताती पांडे का शव बरामद किया गया. मौके से एक बारह बोर बंदूक, दो भरमार, आईईडी, कॉर्डेक्स वायर, जिलेटिन रॉड, पिट्टू, नक्सली साहित्य एवं अन्य सामान बरामद किए गए.

एसपी ने बताया कि पहाड़ियों की आड़ लेकर नक्सलियों ने ताबड़तोड़ बमबारी की. गोलाबारी तकरीब ढाई घंटे चलती रही. खासी तैयारी के साथ धावा बोले नक्सलियों का 60 जवानों ने मुंहतोड़ जवाब दिया.

उन्होंने बताया कि हमले में तीन जवान घायल हो गए हैं, जिन्हें जगदलपुर के महारानी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. नक्सलियों ने कैम्प से हथियार लूटने और बड़ा नुकसान पहुंचाने की मंशा के साथ हमला किया था. बम फेंकने में देसी रॉकेट लांचरों का इस्तेमाल भी किया गया था.

मेकाज अस्पताल लाए गए घायल जवानों ने बताया कि कैम्प पर कम से कम 50 बम दागे गए थे.

Tags: , , , ,