बेटियों का सौदागर बाप

Friday, August 22, 2014

A A

छेड़छाड़

जशपुर | समाचार डेस्क: छत्तीसगढ़ के जशपुर में एक पिता ने पैसों के लिये अपनी बेटियों को बेच दिया. जानकारी मिलने के बाद बालक कल्याण समिति ने दोनों बच्चियों को इस शोषण से मुक्त करवा कर बालिका गृह भेज दिया है. समिति ने मामले की जांच का आदेश भी जारी कर दिया है.

छत्तीसगढ़ के रायगढ़ में रहने वाली महिला ने बताया कि पूर्व पति से झगड़ा होने के बाद से वह पिछले 5 सालों से अलग रह रही थी. उसकी पहले पति से 3 बेटियां थी. पति से अलग होने के बाद उसके पति ने तीनों बेटियों को पंचायत की बैठक में अपने कब्जे में ले लिया और कभी उनसे मिलने नहीं दिया.

इस दौरान महिला ने दूसरी शादी कर ली और काम करने के लिए रायगढ़ आ गई. यहां उसे पता चला कि उसकी दो बेटियां बगीचा शहर में भीख मांग रही हैं. ये बात सुनकर वह तुरंत बगीचा पहुंची और आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता की मदद से बालक कल्याण समिति तक पहुंची.

महिला ने बताया कि उसके पहले पति ने उसकी तीनों बेटियों को अलग-अलग जगह बंधुवां मजदूर बना कर रखा था. इतना ही नहीं उसके पति ने दरिंदगी की हद ही पार कर दी. उसने अपनी बड़ी बेटी को 3 हजार रुपए और एक बकरा के लिए बगीचा के कदमपाठ में बंधुवां मजदूर बना दिया और मंझली बेटी को बगीचा के ही एक किराना व्यवसायी को सौंप दिया. यहां उसे एक घरेलू काम पर लगा दिया.

Tags: , , , , , ,