जशपुर: हाथियों से बचने रतजगा

Tuesday, September 1, 2015

A A

हाथी

जशपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के जशपुर के कोतबा क्षेत्र के ग्रामीण हाथियों के डर से रतजगा कर हें हैं. कोतबा क्षेत्र के ग्राम मधुबन में रविवार-सोमवार की रात हाथियों ने जमकर उत्पात मचाया. 28 हाथियों के इस दल ने गांव के दो मकानों को ध्वस्त कर घर में रखे अनाज को खा लिया. पिछले 3 माह से हाथी कोतबा क्षेत्र में उत्पात मचा रहे है, इससे ग्रामीणों का जीना मुश्किल हो गया है.

ग्रामीणों का कहना है धान की फसल जैसे-जैसे बढ़ती जाएगी, हाथियों का हमला और तेज होगा. वन विभाग को इन उत्पाती हाथियों को खदेड़ने की योजना बनानी चाहिए लेकिन अधिकारी सिर्फ मुआवजा प्रकरण तैयार कर कर्त्तव्य पूरा मन लेते हैं. क्षेत्र में हाथियों का हमला झेल रहे लोगों में वन विभाग के लापरवाह रवैये से आक्रोश है. ग्रामीणों का आरोप है कि विभाग के अधिकारियों को सूचना देने के बावजूद वे घटना स्थल तक नहीं पहुंचते हैं.

मधुबन निवासी मतीसाय पैंकरा के मुताबिक इससे पहले भी ग्राम में पहले भी हाथियों का हमला हो चुका है लेकिन वन विभाग ने आज तक मुआवजा नहीं दिया और नहीं हाथियों से उन्हें सुरक्षित करने के लिए कोई ठोस पहल किया है. ग्रामीणों के मुताबिक विभाग को बार बार गुहार लगाने के बावजूद भी हाथीयों को खदेडने के लिए एक टार्च लाईट नहीं मिल पाई है.

Tags: , , , , ,