वृक्षारोपण से पर्यावरण संतुलित होगा

Tuesday, August 4, 2015

A A

रामसेवक पैकरा-गृहमंत्री

सूरजपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के गृह, जेल एवं लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री रामसेवक पैकरा की अध्यक्षता में जेल परिसर में हरियर छत्तीसगढ़ योजना हुआ. मंत्री पैकरा ने वन महोत्सव में सम्बोधित करते हुए कहा कि जिस गति से पर्यावरण प्रदुषित हो रहा है ऐसे स्थिति में वृक्ष लगाकर ही पर्यावरण को सन्तुलित किया जा सकता है. आने वाले कल में वन संवर्धन, संरक्षण विस्तार पर कार्य करते रहेगें.

उन्होंने कहा कि वृक्ष लगाना अति आवश्यक है इस वर्ष जिले के प्रत्येक ग्राम पंचायत के माध्यम से अधिक से अधिक वृक्ष लगायें जा रहे हैं. नये तरीके से अच्छी पहल के साथ वृक्ष लगाकर उसकी सुरक्षा और देखभाल करना सबसे बडी नैतिक जिम्मेदारी है तभी पर्यावरण सार्थक होगा. वनों की संख्या बढायें वन कटाई को रोकें और लोगों में जागरूकता लानें के लिए पर्यावरण जीवन के लिए आवश्यक है.

इस अवसर पर कलेक्टर जी.आर. चुरेन्द्र ने वन महोत्सव के अवसर पर आज पूरे जिले में साढे़ तीन लाख पौधे लगाये जा रहे हैं. समय के साथ धरती में पानी कम हो रहा है जमीन अनुपजाउ हो रहा है और समस्याएं बढ़ रही है जिले में इस वर्ष 42 लाख पौधे 15 सितम्बर तक रोपे जायेगें. जिले के शैक्षणिक संस्थानों में, पुराने ग्राम पंचायत भवन एवं आंगनबाड़ी परिसर, आश्रम शालाओं, जनपद पंचायत के समस्त ग्राम पंचायत के हाट बाजारों, तालाब एवं डबरी के मेढ़ों, समस्त ग्राम के देवालयों के किनारे, जिले के थाने व चौकी, एसईसीएल एवं अदानी ग्रुप आफ कम्पनी के परिसरों में एवं लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग सूरजपुर द्वारा स्थापित हैण्डपम्प के समीप एवं अन्य शासकीय भवनों एवं खाली शासकीय भूमि पर पौधे लगाये जा रहे हैं.

वन महोत्सव में वन मंडलाधिकारी नवीद शुजाउद्दीन ने वन महोत्सव का संक्षिप्त परिचय दिया उन्होंने बताया कि 1950 से कृषि मंत्री के.एम. मुंशी ने वन महोत्सव की शुरूआत किया था, लोगों में वन महोत्सव के प्रति जागरूकता आये हर व्यक्ति वृक्ष लगाकर वन महोत्सव को सार्थक बनायें. इस वर्ष 32 लाख पौधे का विभागीय रोपण हो रहा है, अभी इस महिने 35 हजार पौधे लगा रहे है. जिसकी सुरक्षा और देखभाल करना हम सब का कर्तव्य है.

Tags: , ,