छत्तीसगढ़: 112 नंबर हेल्पलाइन जल्द

Thursday, August 18, 2016

A A

हेल्पलाइन 112

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ में अगले साल से हेल्पलाइऩ नंबर 112 शुरु करने की योजना है. प्रथम चरण में छत्तीसगढ़ के बड़े जिलों और शहरों- रायपुर, बिलासपुर, राजनांदगांव, जांजगीर-चाम्पा, कोरबा, रायगढ़, कबीरधाम, दुर्ग, भिलाई और महासमुंद को इस योजना में शामिल करने का प्रस्ताव है. अपराध नियंत्रण में भी यह हेल्पलाईन नम्बर काफी उपयोगी होगा.

प्रस्तावित योजना वर्तमान में पुलिस के हेल्पलाइन नम्बर 100 का विकल्प होगी. नई प्रस्तावित हेल्प लाईन का नम्बर सम्पूर्ण छत्तीसगढ़ प्रदेश के लिए 112 सिंगल इमरजेंसी रिस्पांस नम्बर होगा.

इस योजना के तहत 300 पी.सी.आर. वाहन आपात सेवा में लगाए जाएंगे. इसके लिए पांच वर्ष की कार्ययोजना तैयार की जा रही है. इस वर्ष योजना के लिए आवश्यक संसाधन जुटाने और आगामी वित्तीय वर्ष 2017-18 से इसे शुरू करने का लक्ष्य लेकर तैयारी की जा रही है.

योजना के संचालन के लिए 40 कॉल सेंटरों की भी स्थापना की जाएगी, जहां संकटग्रस्त लोगों से फोन कॉल्स मिलने पर उनकी मदद के लिए तत्काल वाहन रवाना किए जाएंगे. ये वाहन मोबाइल डाटा टर्मिनल और जी.पी.एस. सुविधा से सुसज्जित रहेंगे. यह सेवा चौबीसों घण्टे चलेगी और इसके लिए अलग-अलग पालियों में कर्मचारियों और अधिकारियों की ड्यूटी लगाई जाएगी.

राजधानी रायपुर में बुधवार को मुख्यमंत्री रमन सिंह को दिये प्रस्तुतीकरण में अधिकारियों ने बताया कि वर्तमान में आकस्मिक दुर्घटना, बीमारी, प्रसव आदि के समय मदद के लिए 100, संजीवनी 108, महतारी एक्सप्रेस 102 जैसे अलग-अलग हेल्प लाईन नम्बर काम कर रहे हैं. नई योजना में इन सभी हेल्प लाईन नम्बरों को एकीकृत करने का प्रस्ताव है. देश के अन्य राज्यों में भी इस योजना के लिए तैयारी चल रही है.

Tags: , , , , ,