सरकारी डॉक्टर जेनेरिक दवा लिखें- मंत्री

Thursday, May 26, 2016

A A

अजय चंद्राकर

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री ने बुधवार को सभी मेडिकल कॉलेजों की समिति की बैठक में निर्देश दिया है कि चिकित्सक मरीजों को जेनेरिक दवायें लिखें. उन्होंने अधिकारियों से कहा कि अस्पताल परिसरों में सिर्फ शासन द्वारा अधिकृत मेडिकल स्टोर ही संचालित हों, इसका भी ध्यान रखा जाये.

स्वास्थ्य मंत्री अजय चन्द्राकर ने रात्रि के समय में आवांछित तत्वों को रोकने के लिए भी कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए. अजय चन्द्राकर ने मेडिकल कॉलेजों के प्रबंधन से जुड़े अधिकारी से यह भी देखने के लिये कहा है कि उन कॉलेजों और अस्पताल परिसरों में अवांछित और अनधिकृत व्यक्ति किसी भी स्थिति में प्रवेश न कर सके.

इस पर विशेष रूप से रात्रि में भी ध्यान देने की जरूरत है. श्री चन्द्राकर ने इस संबंध में मेडिकल कॉलेजों के अधिकारियों को स्थानीय पुलिस अधीक्षकों के साथ सम्पर्क और समन्वय बनाकर उचित व्यवस्था करने के निर्देश दिये.

बैठक में श्री चन्द्राकर ने कहा कि मेडिकल अस्पतालों में वाहन पार्किंग की उचित व्यवस्था की जाए और वहां बेतरतीब वाहन खड़े करने वालों पर नियमानुसार कार्रवाई की जाये.

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि सरकारी अस्पतालों में प्रबंधन और स्वच्छता को बढ़ावा देने के लिए कायाकल्प अभियान भी चलाया जा रहा है, जिसमें अच्छे अस्पतालों को पुरस्कृत करने का भी प्रावधान है.

उन्होंने कहा कि समय पर उपस्थित नहीं रहने वाले डॉक्टरों पर कार्यवाही की जाएगी. बैठक में स्वास्थ्य विभाग के सचिव विकासशील, आयुक्त अविनाश चंपावत, संचालक चिकित्सा शिक्षा, डॉ. ऐके चन्द्राकर, पांचों मेडिलकल कॉलेजों के डीन सहित वरिष्ठ अधीकारी उपस्थित थे.

Tags: , , , ,