विद्या धन सर्वोत्तम धन: राज्यपाल

Tuesday, June 30, 2015

A A

बलरामजी दास टंडन

बिलासपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के राज्यपाल ने सीवी रमन यूनिवर्सिटी में छात्रों से कहा विद्या धन सर्वोत्तम धन है जिसे चोरी नहीं किया जा सकता. छत्तीसगढ़ के राज्यपाल बलरामजी दास टंडन ने सोमवार को बिलासपुर के कोटा स्थित सीवी रमन यूनिवर्सिटी में आयोजित कैरियर गाइडेन्स “जोश” कार्यक्रम में मुख्य अतिथि थे.

उन्होंने विद्यार्थियों से उत्साह, लगन, ईमानदारी और धैर्य जैसे आंतरिक गुणों के साथ जीवन में कठिनाईयों का हंसते हुए सामना करने की समझाइश दी. इन आंतरिक गुणों का विकास जिसने नहीं किया, उसकी शैक्षणिक योग्यता भी कोई काम नहीं आयेगी. जीवन में आगे बढ़ने के लिए विद्यार्थियों को अपने अंतस मूल्यों का विकास करना जरूरी है.

इस अवसर पर छत्तीसगढ़ के राज्यपाल ने कहा कि यह कार्यक्रम युवाओं में उमंग, उत्साह एवं उर्जा का संचार करेगा. विश्वविद्यालयों में हर वर्ष नये विद्यार्थी आते हैं और अपनी शिक्षा पूरी कर चले जाते हैं. यह प्रवाह जारी रहता है. यहां आने वाले विद्यार्थी एक ही निश्चय कर आते हैं कि ज्ञान अर्जन कर एक अच्छा मुकाम पायेंगे.

राज्यपाल टण्डन ने कहा कि विद्या धन सर्वोत्तम धन है. बाकी सभी धन की चोरी हो सकती है, लेकिन इस धन को कोई नहीं चुरा सकता. इस धन को कितना भी खर्च करो, वह कम नहीं होगा. विश्वविद्यालय की डिग्री जीवन के रंगमंच पर भूमिका अदा करने के लिए एक परमिट है. यह छात्रों पर निर्भर है कि इसका इस्तेमाल वे कैसे करते हैं.

Tags: , , , ,