छत्तीसगढ़: विकास चाहिए या बंदूक?

Wednesday, April 15, 2015

A A

पूर्व सेनाध्यक्ष वी के सिंह

रायपुर | एजेंसी: विदेश राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह ने कहा है जनता करें उसे विकास चाहिये या बंदूक. उनका इशारा साफ तौर पर इस बात का था कि जनता को नक्सवाद तथा विकास में से किसी एक को चुनना है. केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री जनरल वी.के. सिंह मंगलवार को छत्तीसगढ़ की राजधानी पहुंचे. प्रदेश में लगातार हो रही नक्सल वारदातों पर उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार इस दिशा में अच्छा काम कर रही है, अब यहां के मूल निवासियों को तय करना है कि उन्हें विकास चाहिए या बंदूक.

रायपुर प्रवास के दौरान एक निजी चैनल से बातचीत में सिंह ने कहा कि छत्तीसगढ़ में सेना की तैनाती नहीं हुई है, यहां नक्सल मोर्चो पर पैरामिल्रिटी फोर्स तैनात है. नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में स्थानीय आदिवासी भी रहते हैं, ऐसे में वहां तैनात सुरक्षाबल को एक सुनियोजित रणनीति बनाने की जरूरत

एक ऐसी रणनीति जो सुरक्षाबल पर ग्रामीणों का विश्वास बढ़ा सके और नक्सलवाद का खात्मा कर सके.

नक्सलियों को मिलने वाली कथित विदेश मदद के मुद्दे पर जनरल सिंह ने कहा कि उनके सेना प्रमुख रहते ऐसा कोई ‘इनपुट’ नहीं मिला. वह यहां चल रहे फिल्मोत्सव के समापन समारोह में भाग लेने आए हैं.

Tags: , , , ,