गैंगरेप के आरोपी का दावा, मैं नपुंसक

Friday, September 30, 2016

A A

unable to sex

दुर्ग | समाचार डेस्क: छत्तीसगढ़ में गैंगरेप के आरोपी ने नपुंसक होने का दावा किया. छत्तीसगढ़ के दुर्ग में गुरुवार को गिरफ्तार गैंगरेप के मुख्य आरोपी अजीत सिंह ने अदालत में खुद को सेक्स करने में अक्षम करार देते हुये मेडिकल परीक्षण कराने की अनुमति मांगी है. गैंगरेप को मुख्य आरोपी अजीत सिंह का कहना है कि उसका दो साल से इसके लिये इलाज भी चल रहा है. इस पर शुक्रवार को सुनवाई होगी.

गौरतलब है कि एक कंपनी में काम करने वाली युवती ने सुपेला थाने में गैंगरेप की शिकायत दर्ज कराई है. युवती की शिकायत पर पुलिस ने अजीत सिंह, गिरीश खापर्डे तथा आकाश चंद्राकर को गिरफ्तार किया है. इनमें से अजीत सिंह ने अपने वकील रविशंकर मानिकपुरी के माध्यम से अदालत में पुलिस पर फर्जी केस बनाने का आरोप लगाया है. गुरुवार को अजीत सिंह को सीजेएम कोर्ट में पेश किया गया था.

युवती की शिकायत के अनुसार बस से नेहरु नगर से रायपुर जाते समय उसकी मुलाकात लालबहादुर वर्मा से हुई थी. उसके बाद वर्मा ने युवती की मदद के लिये अपने मित्र आकाश चंद्राकर का नाम बताया था. वर्मा ने एक दिन युवती को ऑफिस में बुलाया जहां पहले से अजीत सिंह, आकाश चंद्राकर तथा गिरीश खापर्डे बैठे हुये थे. वहां पर अजीत ने युवती को कामकाज के लिये ऑफिस की चाबी भी दे दी थी.

युवती ने बताया कि अजीत सिंह ने उससे शादी का झांसा देकर रेप किया. युवती का यह भी कहना है कि आरोपियों ने उसे एक कंपनी के निदेशक के सामने भी परोस दिया था.

Tags: , , , , , , , , ,