रायपुर से बिलासपुर और धमतरी फोरलेन जल्दी

Friday, July 4, 2014

A A

रायपुर

रायपुर | संवाददाता: मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के प्रस्ताव पर केन्द्र सरकार ने छत्तीसगढ़ के दो महत्वपूर्ण सड़क मार्गो पर फोरलेन बनाने का कार्य जल्द शुरू करने का निर्णय लिया है.

प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और केन्द्रीय परिवहन तथा पंचायत और ग्रामीण विकास मंत्री नितिन गडकरी के बीच आज नई दिल्ली में परिवहन मंत्रालय में आयोजित एक उच्चस्तरीय बैठक में यह निर्णय लिया गया. श्री गडकरी ने मुख्यमंत्री से कहा कि समस्त बाधाओं को दूर करते हुए अगले छह महीने में बिलासपुर से रायपुर और रायपुर से धमतरी फोर लेन का कार्य शुरू कर दिया जायेगा. मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय परिवहन मंत्री के समक्ष इन दोनो मार्गो का निर्माण प्रारंभ करने में आ रही रूकावटों का जिक्र करते हुए उनसे जल्द इस संबंध में निर्णय लेने का आग्रह किया था. मुख्यमंत्री ने गडकरी को इस विषय में ज्ञापन भी सौंपा.

मुख्यमंत्री ने आज की बैठक में केन्द्रीय पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री नितिन गडकरी से राज्य के नवगठित बालोद और गरियाबंद जिलों को पिछड़ा क्षेत्र अनुदान कोष ; इंबांतक त्महपवदे ळतंदक थ्नदक द्ध में शामिल करने और वार्षिक क्षमता निर्माण अनुदान स्वीकृत करने का भी आग्रह किया . केन्द्रीय मंत्री ने ग्रामीण विकास विभाग के अधिकारियों को गरियाबंद और बालोद जिलों को बी.आर.जी.एफ. में शामिल कर सभी योजनाओं का लाभ उपलब्ध कराने का निर्देश दिया.

उन्होंने बैठक में छत्तीसगढ़ की सड़क परिवहन व्यवस्था पर चर्चा के दौरान श्री गडकरी को बताया कि बस्तर अंचल में में नक्सल समस्या से निजात पाने के लिए बस्तर के एकांतवास को समाप्त कर इसे चारो और से देश के अन्य हिस्सों से जोड़ने के लिए अच्छी सड़कों का निर्माण और विकास जरूरी है . उन्होंने केन्द्रीय परिवहन मंत्री को बताया कि रायपुर से जगदलपुर और जगदलपुर से कोंटा-सुकमा तथा जगदलपुर से भोपालपटटनम तक राजमार्गो का विकास जरूरी है , इसके लिए पुर्न प्रशासकीय स्वीकृति की आवष्यकता है. उन्होंने कहा कि यह मार्ग देश की आंतरिक सुरक्षा और विकास तथा बस्तर की सामाजिक-आर्थिक समस्या को दूर करने का मार्ग प्रशस्त करेगा.

केन्द्रीय मंत्री ने मुख्यमंत्री को विश्वास दिलाया कि बस्तर अंचल के सभी सड़क मार्गो की स्वीकृति और निर्माण के लिए विशेष रूप से प्रयास किए जाएंगे. उन्होंने परिवहन मंत्रालय के अधिकारियों को निर्देश दिए की इस संबंध मापदंडों में प परिवर्तन जरूरी हो तो जल्द कर लिया जाए, ताकि बस्तर में सड़को के निर्माण में कोई रूकावट न आने पाए.

बैठक में रायपुर-दुर्ग छह लेन सड़क निर्माण की स्वीकृति और वर्तमान कांट्रेक्टर को मार्ग मरम्मत और रख-रखाव न करने के कारण टोल वसूली पर रोक लगाने संबंधी विषय पर भी विचार विमर्श हुआ. केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि निर्माण और रख-रखाव कार्य में लापरवाही करने वाले किसी भी ठेकेदार को बख्शा नहीं जायेगा. उन्होंने केन्द्रीय अधिकारियों से इस संबंध में कठोर कार्यवाही करने के निर्देश दिए.

रमन सिंह ने ग्रामीण विकास मंत्री गडकरी से निर्मल भारत योजना के तहत अलग-अलग विभागों से प्राप्त होने वाली राशि की प्रक्रिया को समाप्त कर इसे एकीकृत कर एक ही विभाग से सम्पूर्ण राशि प्रदान करने का आग्रह किया. केन्द्रीय मंत्री ने बताया कि उनका मंत्रालय इस दिशा में कार्य कर रहा है और शीघ्र ही इस संबंध दिशा निर्देश जारी कर दिये जायेंगे . बैठक में केन्द्रीय मंत्री ने मुख्यमंत्री की मांग पर राज्य के ग्रामीण इलाकों के लिए केन्द्र सरकार की नयी योजना के तहत 2500 सोलर पंप स्वीकृत करने के भी निर्देश दिए. बैठक में छत्तीसगढ़ के लोक निर्माण मंत्री राजेश मूणत राज्य सरकार के मुख्य सचिव विवेक ढांड, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव अमनकुमार सिंह और लोक निर्माण विभाग के प्रमुख सचिव श्री आर.पी.मंडल भी उपस्थित थे.

Tags: , , , , , , , , ,