वन अपराधों की सूचना पर ज्यादा राशि

Wednesday, August 20, 2014

A A

हाथी

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ सरकार ने वन अपराधों की सूचना देने वाले को दी जाने वाली पुरस्कार राशि बढ़ा दी है. इससे उम्मीद की जा रही है कि वन अपराधों की सूचना विभाग को मिला करेगी.

छत्तीसगढ़ में वन अपराधों की सूचना देने वाले व्यक्तियों को राज्य सरकार की ओर से दी जाने वाली पुरस्कार राशि में कई गुना बढ़ोतरी की गई है. अपराध की गंभीरता के अनुरूप यह राशि पांच सौ रुपए से लेकर दस हजार रुपए तक दी जाएगी.

वन विभाग के अधिकारियों ने आज यहां बताया कि बाघ, जंगली हाथी, वनभैंसा, गौर और तेन्दुआ के प्रकरणों में संबंधित वन मण्डलाधिकारी को पांच हजार रुपए, वन संरक्षक को सात हजार 500 रुपए और प्रधान मुख्य वन संरक्षक को 10 हजार रुपए पुरस्कार स्वीकृत करने का अधिकार दिया गया है. इसके पहले इन प्रकरणों में मात्र पांच सौ रुपए पुरस्कार में दी जाती थी.

इसी प्रकार अन्य जंगली जानवरों, मगर, घड़ियाल, पहाड़ी मैना से संबंधित अपराध और आरोपियों की सूचना देने पर पर संबंधित वन मण्डलाधिकारी दो हजार तथा वन संरक्षक पांच हजार रुपए मंजूर कर सकेंगे. इसके पहले मात्र दो सौ रुपए पुरस्कार में दिए जाने का प्रावधान था.

इसके अलावा अन्य पक्षियों और उनसे संबंधित अपराधियों की सूचना पर अधिकतम एक हजार रुपए की पुरस्कार दी जाएगी. ऐसे प्रकरणों में पहले केवल पांच रुपए पुरस्कार का इंतजाम था.

Tags: , , , , , ,